अब महंगी हुई बीएड की पढ़ाई, इतने हजार तक बढ़ी फ़ीस

HNN News/ शिमला

हिमाचल के 72 निजी बीएड कॉलेजों की फीस में 13 हजार रुपये की बढ़ोतरी हो गई है। प्रदेश ने नए फीस स्ट्रक्चर को मंजूर करते हुए दो साल की बीएड फीस 85 हजार रुपये से बढ़ाकर 98 हजार कर दी है। उच्च शिक्षा निदेशालय से इस बाबत अधिसूचना जारी होते ही फीस की नई दरें शैक्षणिक सत्र 2019-20 से लागू हो जाएंगी।

वर्तमान में प्रदेश के बीएड कॉलेजों में दो साल की डिग्री के लिए 85 हजार रुपये की फीस वसूली जा रही है। हिमाचल में स्थित 72 बीएड कॉलेजों में हर साल करीब आठ हजार विद्यार्थी प्रवेश लेते हैं। फीस बढ़ाने की मांग को लेकर कॉलेज प्रबंधक हाईकोर्ट पहुंच गए थे। हाईकोर्ट ने फैसला लेने के लिए सरकार को निर्देश दिए थे।

इसी कड़ी में हाईकोर्ट के आदेशानुसार नया फीस स्ट्रक्चर तैयार किया गया है। 98 हजार की फीस दो किस्तों में वसूली जाएगी। पहले साल 49510 रुपये और दूसरे साल में 48490 रुपये चुकाने पड़ेंगे। इसके अलावा 1400 रुपये प्रति सेमेस्टर की परीक्षा फीस अलग से देनी होगी। लाइब्रेरी सिक्योरिटी फंड के एक हजार रुपये डिग्री पूरी होने पर वापस मिल जाएंगे।

इससे पूर्व मई 2017 में फीस बढ़ोतरी हुई थी। दो साल की बीएड डिग्री की फीस को सरकार ने 22 हजार रुपये बढ़ाया था। 84,870 रुपये फीस सरकार ने तय की थी। डिग्री के पहले साल में 42,950 और दूसरे साल में 41,920 रुपये की किस्त देना तय किया था। इससे पहले नवंबर 2016 में सरकार ने निजी बीएड कॉलेजों की फीस को 45 हजार रुपये से बढ़ाकर 62,870 रुपये तय किया था।