अब 58 साल में ही रिटायर होंगे दिव्यांग कर्मचारी, संघ ने आंदोलन को चेताया

HNN News/ मंडी

हिमाचल सरकार ने दिव्यांग जनों को जोरदार झटका दिया है। 60 वर्ष की उम्र में सेवानिवृत्त होने वाले दृष्टिहीन अब 60 की बजाय 58 साल में ही सेवानिवृत्त होंगे। इस संदर्भ में अभी हाल ही में हिमाचल सरकार ने 4 नवंबर को पहले की अधिसूचना को रद्द करने के फरमान जारी कर दिए हैं, जिसके चलते अब दृष्टिहीन दिव्यांगजन 58 साल की ही उम्र में सेवानिवृत्त होंगे।

यह जानकारी दृष्टिहीन दिव्यांगजन संघ हिमाचल प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष शोभू राम और दिव्यांगजनों के कानूनी सलाहकार एवं मुख्य समाजसेवी कुशल कुमार सकलानी ने दी।

उन्होंने हिमाचल सरकार के इस तरह के तुगलकी फरमान की कड़े शब्दों में निंदा की है। प्रदेश सरकार को दो टूक शब्दों में चेताया है कि अगर हिमाचल सरकार ने जल्द ही दिव्यांगजनों के विरोध में जो यह निर्णय लिया है, उसे रद्द नहीं किया तो आने वाले 3 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस का समूचे प्रदेश और देश में वह इस कार्यक्रम का विरोध किया जाएगा।

इस दिवस पर कोई भी दिव्यांग प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से किसी भी कार्यक्रम में नहीं भाग लेगा और हर मोर्चे पर इसका विरोध किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि यह सीधे तौर पर हिमाचल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना की है।