आयोडीन का प्रयोग स्वास्थ्य के लिए लाभदायक, इसकी कमी से हो सकती है…

HNN / ऊना, वीरेंद्र बन्याल

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग जिला ऊना ने विश्व आयोडीन अल्पता विकार निवारण दिवस के उपलक्ष्य पर एक दिवसीय जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी ऊना डाॅ रमन कुमार शर्मा ने दी।  डाॅ रमन कुमार शर्मा ने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य भोजन में आयोडीन का समुचित उपयोग तथा आयोडीन की कमी से होने वाली बिमारियों के बारे में जागरूकता फैलाना है।

आयोडीन हमारी सेहत के लिए बेहद जरूरी माइकोन्यूट्रीएंट है। इसकी जरूरत शरीर में थायोराइड फंक्शन को नाॅर्मल तरीके से चलाने, फिजिकल और मेंटल ग्रोथ के लिए होती है। सीएमओ ने बताया कि आयोडीन का प्रयोग स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। आयोडीन का सस्ता तथा सुलभ स्रोत खाने वाला नमक है। शरीर में आयोडीन की कमी से कई तरह की बिमारियों बन जाती है। इसकी कमी से गिल्ल्ड रोग, मानसिक विकार,  स्नायु विकार, जन्मजात दोष,  अपंगता हो जाती है।

कार्यक्रम में उपस्थित पंचायत प्रतिनिधियों को आयोडीन जाँच किट द्वारा नमक में आयोडीन की मात्रा की जाँच करना भी बताया गया। उन्होंने कहा कि नियमित रूप से आशा कार्यकत्ताओं से अपने नमक की जाँच करवाते रहें ताकि नमक में आयोडीन की मात्रा का स्तर पता चल सके।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो