उपनिदेशक को भाजपा का एजेंट बताने वाले एमएलए के खिलाफ गरजे प्रताप रावत

विधवा महिला की भावनाओं से खेलते हुए राजनीतिक रोटियां सेकना बंद करें विनय कुमार- प्रताप रावत

HNN News श्री रेणुका जी

नहान सिरमौर भाजपा के जिला सह मीडिया प्रभारी प्रताप सिंह रावत ने मीडिया को जारी बयान करते हुए कहा है कि रेणुका के कांग्रेसी विधायक विनय कुमार विधवा महिला कर्मचारी के तबादले पर अपनी राजनीतिक रोटियां सेकना बंद करें क्योंकि विधायक की कोई गरिमा होती है । प्रताप रावत ने कहा कि उपनिदेशक के समक्ष दो तबादला आदेश आए हैं । उन्होंने कहा कि दोनों अगेंस्ट वेकेंट पोस्ट के आदेश हुए थे ऐसे में उपनिदेशक ने किसी को जॉइनिंग ना करवाते हुए निदेशक हायर एजुकेशन को दोनों केस भेज दिए हैं।

प्रताप रावत ने कहा कि आपको इस प्रकार शोभा नहीं देता कि आप स्वयं किसी कार्यालय में जाकर अधिकारी के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग कर उन्हें भाजपा का एजेंट बताएं।

रावत ने कांग्रेसी विधायक विनय कुमार को याद दिलाते हुए बताया कि जब आप पूर्व कांग्रेस सरकार में मुख्य संसदीय सचिव थे तब आपने एक ही महीने में दो एसडीएम के तबादले किए थे । रावत ने विनय कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह अधिकारियों को अपने निजी आवास खेगुवा बुलाते थे और उन पर अनैतिक दबाव बनाकर मनमाने काम करवाते थे।

रावत ने बताया कि अधिकारी किसी भी पार्टी के एजेंट नहीं होते वह अपना काम करते हैं। रावत ने बताया कि सरकार चाहे किसी की भी हो तबादले होते रहते हैं क्योंकि यह एक निरंतर प्रक्रिया है।

इस पर राजनीति नहीं करनी चाहिए और ना ही अधिकारियों पर अनैतिक दबाव डालना चाहिए। उन्होंने कहा कि विधायक की गरिमा होती है पुणे अधिकारियों के साथ मिल बैठकर काम करना चाहिए तबादले को राजनीतिक अखाड़ा नहीं बनाना चाहिए।

बरहाल विनय कुमार ने जिस तरीके से सब कुछ जानते हुए उपनिदेशक पर दबाव बनाने की कोशिश की है उसको लेकर सभी और उनकी कड़ी आलोचना हो रही है। गैर शिक्षक कर्मचारी महासंघ सहित कई नेताओं का कहना है कि विरोध दर्ज करने का तरीका होता है और जो तरीका विनय कुमार ने अपनाया है उससे केवल उनका राजनीतिक स्वार्थ सिद्ध होता है।

Test