ऊँची चोटियों पर हुई ताजा बर्फ़बारी, बढ़ी पर्यटकों की संख्या

HNN News/ मनाली

मौसम के करवट बदलते ही कुल्लू-मनाली सहित लाहुल-स्पीति की ऊंची चोटियों में हल्की बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है। बारालाचा , शिंकुला दर्रे व कुंजम जोत सहित समस्त ऊंची चोटियों में बर्फ की परत बिछ गई है। पहाड़ो पर बर्फ के फाहे गिरने से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। मनाली और केलांग में मौसम ठंडा हो गया है।

हालांकि मनाली-लेह, मनाली दारचा जांस्कर व मनाली काजा मार्ग पर वाहनों की आवाजाही सुचारू है, लेकिन मौसम के हालात ऐसे ही रहे तो इन मार्गो पर वाहनों की रफ्तार कभी भी थम सकती है।

शुक्रवार को मनाली से दर्जनों स्थानीय वाहनों ने रोहतांग, बारालाचा व शिंकुला जोत पार कर लेह व जांस्कर का रुख किया। छुटपुट वाहन काजा के लिये भी रवाना हुए है।

हालांकि चंद्रताल झील के सैलानियों के लिये बन्द कर देने के बाद सैलानियों की आवाजाही घटी है लेकिन स्थानीय लोग कुंजम व लोसर होते हुए काजा का रुख कर रहे है।

रोहतांग की ऊंची चोटियों पर भी बुधवार रात को बर्फ के फाहे गिरे हैं। धुंधी जोत, मकरबेद, शिकरबेद, हनुमान टिब्बा, ईंद्र किला, चंद्रखणी, भृगु व दशौहर की पहाडि़यों में रात को हल्की बर्फबारी हुई है।

यही नहीं, रोहतांग के उस पार बारालाचा, शिंकुला जोत, कुंजम दर्रा, छोटा व बड़ा शिघरी ग्लेशियर, लेडी ऑफ केलांग व नीलकंठ की पहाडि़यों सहित समस्त ऊंची चोटियों पर बर्फ के फाहे गिरे हैं।

ताजा बर्फ़बारी ने बढ़ाई पर्यटकों की संख्या

रात को हुई ताजा बर्फ़बारी से शुक्रवार सुबह बर्फ के दीदार को सैलानियों का मेला लग गया। हालांकि मनाली में इन दिनों सैलानियों की आमद कम है लेकिन पहाड़ों पर बर्फ़बारी होने से शीघ्र आमद बढ़ने की उम्मीद है।