कमला हैरिस उप राष्ट्रपति बन सकती हैं तो सोनिया गाँधी क्यों नहीं बन सकती प्रधानमन्त्री – एन. के. पन्डित

HNN / शिमला

अगर कमला हैरिस अमरीका की उपराष्ट्रपति बन सकती है तो सोनिया गाँधी भारत की प्रधानमन्त्री क्यों नहीं बन सकती। यह सवाल राहुल -प्रियंका गाँधी सेना कांग्रेस पार्टी के प्रदेश सह मीडिया इन्चार्ज एन. के पन्डित ने भाजपा नेताओं और देश वासियों से पूछा हैं। पन्डित ने मीडिया से एक विशेष भेंट वार्ता में कहा कि सोनिया गाँधी के प्रधानमन्त्री बनने पर कोई सवैंधानिक रोक नहीं है पर भाजपा जैसे कुछ दल चुनाव में उनके विदेशी मूल के मुद्दे को भावनात्मक रूप से उछालते हैं।

उन्होंने सोनिया गाँधी को विदेशी का नारा देने वालों को खूब कोसा। उन्होंने भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा ने सविंधान समीक्षा दायरे में इस मुद्दे को क्यों नहीं उठाया। एन के पन्डित ने इन पार्टियों पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा नेता बताएँ कि सोनिया गाँधी ने एक माँ, देशवासी पत्नी और एक देशवासी बहू में से कौन सी भूमिका नहीं निभाई। उन्होंने इस बात पर बल देते हुए कहा कि सोनिया गाँधी भारत की सशक्त, मजबूत और लोकप्रिय प्रधानमन्त्री बन सकती है।

उन्होंने विदेशी मूल का मुद्दा उठाने वाले राजनीतिक दलों की निंदा करते हुए कहा कि यह नेता सोनिया गाँधी की सफलता तथा अपने प्रधानमंत्री बनने की इच्छा के चलते ही ऐसी अनाप सनाप बयानबाजी करते है जिसका कोई जनाधार नहीं है। पन्डित ने भाजपा नेताओं पर शब्द बाण से हमला करते हुए कहा कि विदेश में पैदा होने से कोई विदेशी नहीं हो जाता। अगर भाजपा ऐसा ही मानती है तो उनके वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी भी क्या विदेशी है। क्योंकि आडवाणी का जन्म भी पाकिस्तान के लाहौर में हुआ है।

पन्डित ने हिमाचल की भाजपा सरकार की घेराबंदी करते हुए कहा कि जय राम सरकार ने बिजली बोर्ड में बाहरी राज्य के 54 लोगों के चयन पर सवालिया निशान उठाये है। पन्डित ने हिमाचल की भाजपा सरकार पर तंज कस्ते हुए कहा कि वाह रे हिमाचल सरकार, अपनों को दरकिनार और बेगानों को रोजगार। उन्होंने मुख्यमन्त्री को सलाह दी है कि वो बाहर के राज्यों के लोगों को रोजगार देना छोड़कर हिमाचल प्रदेश में जो बेरोजगारों की फौज दिन रात बढ़ रही है उसपर अपना ध्यान दे।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के करीब 16 लाख बेरोजगार युवा शिक्षित रोजगार की तलाश में दर दर भटक रहे है और भाजपा सरकार उत्तर प्रदेश, बिहार साहित और राज्यों के लोगों को रोजगार देने पर तुली हुई है। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने इस मुद्दे को गंभीरता से लेते हुए कल हिमाचल प्रदेश के हर जिले में विरोध प्रदर्शन करके भाजपा सरकार पर पूरा दबाव बनाएगी तथा कांग्रेस पार्टी हिमाचल प्रदेश में बेरोजगारी के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं करेगी। क्योंकि कांग्रेस पार्टी हिमाचल के हर बेरोजगार युवा के साथ खड़ी है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो