करोडो रूपए का चुना लगाने वाला आरोपी हुआ गायब

HNN News / ऊना

जाली चालान व फर्जी एफडीआर के माध्यम से आबकारी एवं कराधान विभाग को करीब पौने तीन करोड़ का चूना लगाने वाले आरोपी की उच्च न्यायालय में जमानत याचिका खारिज हो गई है। जमानत याचिका के खारिज होते ही आरोपी भूमिगत हो गया है, जिसकी तलाश में विजिलेंस जुट गई है। एएसपी विजिलेंस ऊना सागर चंद्र शर्मा ने इसकी पुष्टि की है।

उन्होंने बताया कि आबकारी एवं कराधान विभाग ऊना में शराब ठेकेदार ने जाली ई-चालान व फर्जी एफडीआर के नाम पर करीब पौने तीन करोड़ की चपत विभाग को लगाई थी। इसका खुलासा विभाग के ऑडिट के दौरान हुआ था। उक्त मामले में विजिलेंस ने विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी, जिसमें महिला शराब ठेकेदार व एक सीए सहित तीन व्यक्तियों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज हुई थी।

इस मामले में महिला शराब ठेकेदार जमानत पर रिहा है, जबकि अन्य दोनों आरोपी भूमिगत हैं। उन्होंने कहा कि मामले में आरोपी सीए की जमानत याचिका सैशन कोर्ट ऊना से खारिज हो गई थी। इसके बाद से वह भूमिगत चल रहा है, जबकि तीसरे आरोपी की जमानत याचिका हाई कोर्ट से खारिज हुई है। उन्होंने कहा कि आरोपी की तलाश में संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।

Test