कांग्रेस की शिकायत पर धर्मशाला उपचुनाव प्रभारी विपिन परमार को चुनाव आयोग ने दिया नोटिस

HNN News/ धर्मशाला

कांग्रेस की शिकायत पर धर्मशाला उपचुनाव प्रभारी विपिन परमार को चुनाव आयोग ने नोटिस किया है। कांग्रेस ने परमार पर पैसे बांटने के आरोप लगाए थे। साथ ही इसी मामले में वीडियो भी वायरल किया था। हालांकि वीडियो में पैसे बांटने नहीं, बल्कि परमार के परिधि गृह से निकलने की फुटेज थी। इन्हीं चीजों को आधार बनाकर कांग्रेस ने परमार पर पैसे बांटने व विश्राम गृह का उपयोग करने की शिकायत आयोग से की थी।

कांग्रेस की ओर से चुनाव आयोग को की गई शिकायत के बाद परमार से नोटिस के माध्यम से 24 घंटे के अंदर जवाब मांगा था। परमार ने आयोग को जवाब दे दिया है और इसे मुख्य निर्वाचन अधिकारी को भेज दिया है। जांच में अगर कांग्रेस के आरोप गलत पाए जाते हैं तो चुनाव आयोग कांग्रेस नेताओं को भी कारण बताओ नोटिस जारी करेगा।

परमार ने दिया जवाब

भाजपा उपचुनाव प्रभारी विपिन सिंह परमार का कहना है कि नोटिस का जवाब दे दिया है। कांग्रेस की ओर से लगाए गए आरोप आधारहीन व तथ्यहीन हैं। आरोपों का पुख्ता सुबूत कांग्रेस नहीं दे पाई है। उपचुनाव के कारण जनता को गुमराह करने की कोशिश की जा रही है।

प्रजापति, जिला निर्वाचन अधिकारी कांगड़ा राकेश का कि कांग्रेस की शिकायत के बाद विपिन सिंह परमार को नोटिस जारी किया है। 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा था। रिपोर्ट को शिमला भेजा जाएगा।

यह है मामला

कांग्रेस ने सर्किट हाउस धर्मशाला में भाजपा के उपचुनाव प्रभारी विपिन ङ्क्षसह परमार का वीडियो वायरल किया था। वीडियो में परमार सर्किट हाउस से निकले और बाद में गाड़ी से चले गए। कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि परमार सर्किट हाउस में कार्यकर्ताओं को पैसे दे रहे थे और इन्हें जनता के बीच बांटना था। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यकर्ताओं से बहस की। इस बात पर दोनों पार्टियों ने एक-दूसरे के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत की थी। इस संबंध में भाजपा ने भी कांग्रेस के खिलाफ चुनाव आयोग में दर्ज करवाई है।