कोरोना की दूसरी लहर के बीच आरबीआई ने किया बड़ा ऐलान, जानें- क्या है खास..

वैक्सीन निर्माताओं, अस्पतालों और कोविड से संबंधित स्वास्थ्य ढांचे को प्राथमिकता के आधार पर मिलेगा ऋण

देश में कोरोनावायरस की दूसरी लहर तेजी से चल रही है। ऐसे में भारतीय रिजर्व बैंक ने कोरोना की लड़ाई में एक बड़ा ऐलान जारी किया। आरबीआई ने बैंकों से कहा कि वे वैक्सीन निर्माताओं, अस्पतालों और कोविड 19 से संबंधित स्वास्थ्य ढांचे को प्राथमिकता के आधार पर ऋण दे।

आरबीआई ने इस महामारी से त्रसत व्यक्तियों तथा सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यमों से वसूल नहीं हो पा रहे कर्ज़ों के पुनर्गठन की छूट देने सहित अर्थव्यवस्थाओं को इस संकट में संभालने के लिए नए कदमों की घोषणा की।

उन्होंने संक्रमित लोगों के इलाज में काम आने वाली वस्तुओं और बुनियादी सुविधाओं की आपूर्ति बढ़ाने के लिए बैंकों द्वारा 50,000 करोड रुपए के कर्ज की एक नई सुविधा भी शामिल है।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कोविड-19 की दूसरी लहर के बीच सुबह आनन-फानन में बुलाए गए संवाददाता सम्मेलन में इन कदमों की घोषणा की। उन्होंने बताया कि 50,000 के वित्त पोषण की सुविधा 31 मार्च 2022 तक खुली रहेगी।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो