कोरोना पर आस्था पड़ी भारी, नवरात्र के पहले ही दिन भारी संख्या में चिंतपूर्णी मंदिर पहुंचे श्रद्धालु

HNN/ ऊना

आज यानी 17 अक्टूबर से शारदीय नवरात्र शुरू हो गए हैं जो कि 25 अक्टूबर तक चलेंगे। प्रसिद्ध शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर में पहले नवरात्र के दिन ही भारी संख्या में श्रद्धालु यहां मां का आशीर्वाद लेने पहुंच गए हैं। श्रद्धालुओं की आस्था का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सवेरे पौने ग्यारह बजे तक 4400 श्रद्धालुओं ने मां की पावन पिंडी का दीदार किया है।

बाहरी राज्यों पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और चंडीगढ़ से भारी संख्या में श्रद्धालु यहां मां के दर पर माथा टेकने पहुंच रहे हैं। श्रद्धालुओं की आस्था कोरोना पर भारी पड़ती नजर आ रही है। यहां बाहरी ही नहीं बल्कि प्रदेश के लोग भी मां के चरणों में शीश नवाने पहुंच रहे हैं। श्रद्धालु लंबी-लंबी कतारों में लगकर अपनी बारी के आने का इंतजार कर रहे हैं।

मंदिर न्यास द्वारा उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक एमआरसी कार पार्किंग के रजिस्ट्रेशन काउंटर पर 860, शंभू बाईपास बैरियर पर 1570 और श्री चिंतपूर्णी सदन के काउंटर पर 1970 श्रद्धालुओं ने दर्शन पर्ची ली। वही मां के मंदिर में प्रसाद, नारियल और झंडे चढ़ाने पर रोक लगी हुई है। वहीं नवरात्र मेले के दौरान करीब 300 पुलिस और होमगार्ड के जवान मेला क्षेत्र में तैनात किए हुए हैं।

वहीं मंदिर के पुजारी भी श्रद्धालुओं से कोविड नियमों का पालन करते हुए ही माता की पवित्र पिंडी के दर्शन करने का आह्वान कर रहे है। पहले नवरात्र पर माता चिंतपूर्णी के दर्शनों को पहुंचे श्रद्धालुओं की माने तो माता चिंतपूर्णी सभी भक्तों की चिंताएं दूर करती है और सभी भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करती है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो