कोरोना पर आस्था भारी, नवमी पर शक्तिपीठों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

HNN/ शिमला

आज नवरात्र के अंतिम दिन नवमी पर श्रद्धालुओं की आस्था कोरोना महामारी पर भारी पड़ गई। प्रदेशभर के प्रसिद्ध शक्तिपीठों में सुबह से ही श्रद्धालुओं की लंबी-लंबी कतारें लगनी शुरू हो गई जो कि दोपहर बाद तक भी जारी रही। हिमाचल के विश्व प्रसिद्ध शक्तिपीठ श्री नयनादेवी जी, छिन्नमस्तिका धाम चिंतपूर्णी, बज्रेश्वरी देवी, ज्वालाजी और नंदिकेश्वर धाम चामुंडा मंदिर भक्तों के जयकारों से गूंज उठे।

शक्तिपीठों में प्रदेश सहित भारी राज्यों पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र सहित अन्य प्रदेशों से भारी संख्या में श्रद्धालु यहां पहुंचे अभी भी श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला लगातार जारी है। वीरवार दोपहर तक प्रदेश के शक्तिपीठों में हजारों श्रद्धालु शीश नवा चुके हैं। वही नवमी के चलते मां के दर्शनों को पहुंचे भक्तों द्वारा कन्या पूजन भी किया गया।

यहां कन्याओं को हलवा, पूड़ी का भोग लगाया गया। इसके बाद कन्याओं के पैर धोकर उन्हें उपहार भेंट किए गए। वहीं दूसरी तरफ श्रद्धालुओं द्वारा कोविड-19 नियमों की भी जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। कई श्रद्धालु मास्क नहीं पहन रहे हैं तो कुछ गले में मास्क फंसाए हुए दिखाई दिए। इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग की भी जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है।

हालाँकि शक्तिपीठों में श्रद्धालुओं की भीड़ को नियंत्रण में करने के लिए चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात किए गए हैं। इसके अलावा सीसीटीवी कैमरे की मदद से भी श्रद्धालु की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो