कोरोना पर भारी पड़ी आस्था, शक्तिपीठों में लाखों श्रद्धालु नवा रहे शीश

HNN/ शिमला

शारदीय नवरात्र में कोरोना महामारी पर आस्था भारी पड़ रही है। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि प्रदेश के शक्तिपीठों में हज़ारों नहीं बल्कि लाखों श्रद्धालु दर्शनों को पहुंच रहे हैं। रविवार को छुट्टी का दिन होने के चलते शारदीय नवरात्र के पांचवे दिन लाखों की संख्या में प्रदेश सहित भारी राज्यों से श्रद्धालु माथा टेकने पहुंचे।

इस दौरान विश्व प्रसिद्ध शक्तिपीठ श्रीनयनादेवी जी, छिन्नमस्तिका धाम चिंतपूर्णी, बज्रेश्वरी देवी, ज्वालाजी और नंदिकेश्वर धाम चामुंडा में करीब एक लाख श्रद्धालुओं ने माथा टेका। वही रविवार के बाद सोमवार को भी छठे नवरात्र के उपलक्ष पर प्रदेश के सभी शक्तिपीठों में श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला जारी है।

वहीं श्रद्धालुओं की भीड़ को नियंत्रण में करने के लिए प्रदेश के शक्तिपीठों में पुलिस विभाग ने अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात की है। बता दें कि प्रदेश के चिंतपूर्णी, नयनादेवी, ज्वालामुखी, बज्रेश्वरी देवी व चामुंडा देवी शक्तिपीठों में प्रदेश सहित भारी राज्यों पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र सहित अन्य प्रदेशों से लाखों की संख्या में श्रद्धालु शारदीय नवरात्र के उपलक्ष पर मां के दर्शनों को पहुंचते हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो