कोरोना महामारी से लड़ने के लिए मंडी जिला को मिले 46 वेंटिलेटर

HNN / मंडी

कोरोना महामारी से निपटने के लिए मंडी जिला को 46 वेंटिलेटर मिले हैं। इससे अस्पतालों में कोरोना मरीजों समेत और अन्य गंभीर रोगियों को बड़ी सुविधा मिलेगी। आपात समय में रोगियों की जान बचाई जा सकेगी। पांच वेंटिलेटर क्षेत्रीय अस्पताल मंडी और पंद्रह वेंटिलेटर विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों के लिए हैं।

जिन्हें नागरिक अस्पताल सुंदरनगर, जोगिंद्रनगर, सरकारघाट, करसोग, जंजहैली, बगस्याड़, गोहर, कोटली, पधर, संधोल और धर्मपुर के लिए भेजा जाएगा। यह वेंटिलेटर कोरोना महामारी और अन्य गंभीर रोगों से पीड़ित रोगियों के स्वास्थ्य लाभ के लिए बड़े मददगार साबित होंगे। इसके अतिरिक्त श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के लिए अलग से 26 वेंटिलेटर स्वीकृत हुए हैं।

यह वेंटिलेटर भी जल्द मंडी में पहुंचने वाले हैं। अभी जिला में 10 वेंटिलेटर थे। इनमें से 7 नेरचौक अस्पताल और एक-एक मंडी, सुंदरनगर व जोगिंद्रनगर में था। मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉ. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि प्रदेश सरकार ने जिला को 46 वेंटिलेटर भेजे हैं।

वेंटिलेटर केंद्र सरकार की ओर से प्रदेश को दिए गए हैं। इनमें 20 वेंटिलेटर शनिवार को मंडी पहुंच गए हैं बता दें कि कोरोना मरीजों को कई बार वेंटिलेटर की जरूरत पड़ जाती है। इसके अलावा कई अन्य गंभीर मामलों में भी मरीजों को जीवन रक्षक प्रणाली यानी वेंटिलेटर पर रखा जाता है।