जिंदान हत्याकांड से सुलगा प्रदेश, आक्रोशित भीड ने पुलिस हिरासत से शव छीन रिज पर किया प्रदर्शन

शिक्षा मंत्री ने परिवार को दिया संरक्षण व उचित मुआवजें का आश्वासन

एचएनएन न्यूज। शिमला

सिरमौर के केदार सिंह जिंदान हत्याकांड के मामले ने बीती रात जबरदस्त तूल पकडा जिंदान की हत्या पर परिवार को कोई मुआवजा न देने पर आक्रोशित विभिन्न संगठनों के लोग पोस्टमार्टम के बाद शव को पुलिस हिरासत से छीन कर रिज मैदान पर ले गए। जहां शव को रखकर प्रदर्शकारियों ने रात भर धरना दिया। प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने में पुलिस के पसीने छूट गए। माकपा विधायक राकेश सिंघा भी प्रदर्शनकारियों के साथ थे। आधी रात में शव को लेकर पहुंची पहुंची आक्रोशित भीड़ का प्रदर्शन सुबह 5 बजे तक चला। जब मौके पर पहुंचे शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने प्रदर्शकारियों की मांगों को पूरा करने का भरोसा दिया।

मृतक के परिजनों को 20 लाख की मुआवजा राशि। मृतक की पत्नी को नौकरी और बच्चों की पढाई का खर्चा सरकार द्वारा वहन किये जाने का आश्वासन मिलने पर प्रदर्शनकारी रिज मैदान से हटे और शव पुलिस को सौंपा गया। इसके बाद सिरमौर पुलिस शव को जिंदान के पैतृक गांव ले गई। जहां आज शव का दाह संस्कार होगा। रिज मैदान पर रात को शव को रखकर प्रदर्शन करने का यह पहला मामला है।

प्रदर्शनकारी पुलिस सुरक्षा की बीच पोस्टमार्टम के बाद शव को मुख्यमंत्री के सरकारी आवास ओक ओवर ले जाना चाह रहे थे। पुलिस ने आईजीएमसी और लक्कड़ बाजार पुलिस चौकी में बेरिकेट्स लगाकर प्रदर्शकारियों को रोकने की भी कोशिश की थी। लेकिन आक्रोशित प्रदर्शकारियों को रोकने में विफ ल रही। बाद में प्रदर्शकारियों ने शव को रिज मैदान पर रखकर विरोध जताया। सदर पुलिस इस मामले में अब प्रदर्शनकारियों पर केस दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

हिमाचल नॉउ न्यूज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *