जिला में बढ़ रहे डेंगू और स्क्रब टायफस के मामले

HNN/ ऊना

कोरोना वायरस के आंकड़े धीरे-धीरे कम हो रहे हैं। एक तरफ जहां ये खबर राहत दे रही है, वहीं दूसरी ओर स्क्रब टायफस और डेंगू बुखार के बढ़ते आंकड़े चिंता बढ़ा रहे हैं। जिला ऊना में इन दिनों डेंगू और स्क्रब टायफस के मामले बढ़ रहे है। 2 महीनों में यहां डेंगू के 31 तो स्क्रब टायफस के 39 मामले सामने आ चुके हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने एक तरफ जहां एडवाइज़री जारी की है तो वहीँ, दूसरी तरफ लोगों को सतर्क रहने की हिदायत दी है।

वहीं स्वास्थ्य विभाग द्वारा नगर निकाय और पंचायती राज विभागों के साथ मिलकर फॉगिंग का कार्य करवाया जा रहा है। सीएमओ डॉ रमन शर्मा ने बताया कि जिला में डेंगू और स्क्रब टायफस के मामले बढ़ रहे है। बताया कि स्क्रब टायफस का बुखार खतरनाक जीवाणु जिसे रिकटेशिया (संक्रमित माइट, पिस्सू) के काटने से फैलता है। यह जीवाणु लंबी घास व झाड़ियों में रहने वाले चूहों के शरीर पर रहने वाले पिस्सुओं में पनपता है और इन पिस्सुओं के काटने से यह बीमारी होती है।

इसके अलावा डेंगू में सिर दर्द, थकान, सांस लेने में दिक्कत, उल्टी जैसा महसूस होता है। डेंगू से सबसे बुरा असर प्लेटलेट्स पर पड़ता है। प्लेटलेट्स के गिरने से मौत की संभावना बढ़ जाती है। बताया कि समय पर डेंगू का उपचार न होने के चलते यह बीमारी जानलेवा साबित हो सकती है। उन्होंने लोगों से एहतियात बरतने की अपील की है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो