जिले में आज से दौड़ी निजी बसें, 50 लंबे रूट व 80 लोकल रूटों पर मिली सेवाएं

HNN / मंडी

जिले में आज से निजी बसें भी चली। जिसमे 130 लंबे और स्थानीय रूटों पर बसें चली। निजी बस ऑपरेटर संघ के जिलाध्यक्ष गुलशन कुमार ने बताया कि परिवहन मंत्री से उनकी मांगों को पूरा करवाने के आश्वासन के बाद बसें चलाने का निर्णय लिया है। जिसके चलते सोमवार से 50 लंबे और 80 स्थानीय रूटों पर बसें चलाई गई।

गुलशन कुमार ने बताया कि शनिवार को कुल्लू-मंडी के बस मालिक परिवहन मंत्री से उनके निवास स्थान पर मिले। परिवहन मंत्री ने मुख्यमंत्री से मांगों को पूरा करवाने का आश्वासन दिया है। इसके बाद बसों को चलाने का निर्णय लिया गया। निजी बस सेवा बहाल होने से यात्रियों को भी राहत मिलेगी। वे समय पर अपने गंतव्यों तक आ जा सकेंगे। प्रदेश सरकार ने 100 फीसदी ऑक्यूपेंसी के तहत बसें चलाने की अनुमति दी है।

निजी बस आपरेटर संघ के जिलाध्यक्ष गुलशन कुमार ने बताया कि जिले के 70 बस मालिकों से संपर्क साथ कर सोमवार से 130 रूटों पर बसों को भेजने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि बस ऑपरेटर घाटे में चल रहे है। दो लाख रुपये अनुदान राशि मिलने के बाद अन्य बसों को भी चला दिया जाएगा। किराया जितना पहले लिया जाता था उतना ही लेने का आह्वान किया।

संघ ने परिवहन मंत्री और मुख्यमंत्री का चालक-परिचालकों को 50 लाख तक की इंश्योरेंस करवाने की घोषणा करने पर आभार जताया है। वे उधार का राशन लेने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि कुछ ऑपरेटर बसों को चलाना चाहते हैं मगर उनकी बसों की बैटरी और इंश्योरेंस खत्म हो गई है। उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, परिवहन गोविंद ठाकुर और परिवहन निदेशक जेएम पठानिया से आग्रह किया है जो दो लाख पर बस की इंश्योरेंस की घोषणा की है, उसे शीघ्र जारी किया जाए ताकि बसों के मालिक बसों का काम करवाकर इन्हें सड़कों पर चला सकें।