ज्वालामुखी मंदिर में 184 श्रद्धालुओं ने टेका माथा, 3 दिन में 23910 रुपए का चढ़ा चढ़ावा

HNN/ कांगड़ा

कोरोना संकट के बीच ज्वालामुखी मंदिर में मंगलवार को 184 श्रद्धालुओं ने माथा टेका। श्रद्धालुओं की भक्ति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वैश्विक महामारी कोरोना के बीच भी बाहरी राज्यों उत्तर प्रदेश और दिल्ली से यहां सात लोग मां के दर्शन करने पहुंचे थे। वैश्विक महामारी कोरोना के चलते प्रशासन द्वारा यहां पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। मंदिर परिसर में समय-समय पर सैनिटाइजेशन की जा रही है ताकि कोरोना का खतरा कम बना रहे।

वहीं श्रद्धालुओं को हिदायत भी दी गई है कि वह सरकार के नियमों का पालन करें और कोई कोताही न बरतें। मंदिर परिसर में बैरिकेड भी लगाए गए हैं और प्रवेशद्वार और निकासीद्वार बनाए गए हैं। वही सोशल डिस्टेंसिंग को बरकरार रखने के लिए छह फीट की दूरी पर गोले लगाए गए हैं। श्रद्धालुओं की प्रवेशद्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग करने के बाद और उनके हाथ सैनिटाइज करवाने के बाद ही उन्हें मंदिर में प्रवेश करने दिया जा रहा है।

उधर, मंदिर अधिकारी जगदीश शर्मा ने कहा कि ज्वालामुखी मंदिर में तीन दिन के भीतर 23910 रुपये का चढ़ावा चढ़ा है। उन्होंने बताया कि श्रद्धालुओं की आवक मंदिरों में धीरे धीरे बढ़ने लगी है। बाहरी राज्यों से भी श्रद्धालु मां के चरणों में शीश नवाजने आ रहे हैं। जोकि कोरोना संकट के इस दौर में मां के प्रति उनकी आस्था को दर्शाता है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो