डॉ बिंदल ने 4 सालों में 38 पुल बनाकर तोड़ा रिकॉर्ड,10 पर काम जारी

HNN/ नाहन

नाहन विधानसभा क्षेत्र को नगीना बनाने में डॉ. राजीव बिंदल ने विकास के बड़े रिकॉर्ड तोड़ने में कामयाबी हासिल की है। विधानसभा क्षेत्र के हर गांव और कस्बे को जहां सड़कों से जोड़ा है तो वही हर सड़क और गांव को पुल से जोड़ने में भी कामयाबी हासिल की है। अपने 4 वर्षों के कार्यकाल में विधायक ने 38 पुल बनाकर सरकार के माध्यम से जनता को समर्पित किए हैं। वही 10 ऐसे पुल है जिनके निर्माण कार्य अंडर प्रोसेस चले हुए हैं। विधानसभा क्षेत्र में केवल 10 पुलों का निर्माण होना ही शेष बचा है।

10 पुलों में दो पुल 19-19 करोड़ के बनाए जाने हैं। जिनके लिए विधायक के द्वारा योजना बनाकर सरकार के समक्ष बजट स्वीकृति हेतु भेजे गए हैं। कहा जा सकता है कि सरकार की स्वीकृति के बाद विधानसभा क्षेत्र प्रदेश की ऐसी विधानसभा होगी जिसका हर गांव कस्बा पूरी तरह से सड़कों और पुलों से जुड़ा होगा। गौरतलब हो कि नाहन विधानसभा क्षेत्र में 38 ऐसे छोटे-बड़े पुल हैं जिनका निर्माण कार्य या तो पूरा हो चुका है या पूरा होने की तैयारी में है। जबकि 10 ऐसे पुल है जो अंडर प्रोसेस चले हुए हैं।

जिनमें रुण नदी पर बनने वाला कोटडी पुल, इसी नदी पर भोगपुर सिंबल वाड़ा का पुल, बाता नदी पर गुंगलों का पुल इसी नदी पर फतेहपुर के लिए बनाए जाने वाला पुल भी शामिल है। बड़ी बात तो यह है कि मारकंडे नदी पर दो पुल भी बनकर तैयार हो चुके हैं। जिनमें 1 ढिमकी का पुल है। दूसरा साढे 16 करोड की लागत से कून नैहरला का पुल मारकंडे नदी पर बना है जिसका विधायक राजीव बिंदल रविवार को शिलान्यास भी करेंगे। कोदे वाला के दो पुल बनकला का पुल बनकर तैयार हो चुके हैं।

जबकि रुखड़ी में बनने वाला पुल अभी निर्माणाधीन है। शहीद कुलविंदर सिंह के गांव को धौला कुआं गिरी नगर तक सड़क मार्ग पर 3 पुल भी विधायक द्वारा बीते 4 वर्षों में बनाकर जनता को समर्पित किए गए हैं। जिनमें मंडी खाला, कौंथरौं खाला और खैरी नाला का पुल शामिल है। वही दो बड़े पुल पल्होडी में बनाए जाने हैं जिनमें से एक का शिलान्यास इसी जनवरी माह में किया जाना सुनिश्चित हुआ है और सबसे बड़ी बात यह भी है कि आर्मी क्षेत्र से आगे जबल का बाग और कंडईवाला के बीच भी अब आवाजाही पुल के माध्यम से शुरू हो जाएगी।

यह पुल भी बनकर तैयार हो चुका है। इसका सबसे बड़ा फायदा उन लोगों को होगा जिनको अपने घर आदि के निर्माण के लिए सामग्री नाहन की ओर से आर्मी क्षेत्र से होकर ले जानी पड़ती थी। जिसमें उन्हें भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। इसके साथ ही पथराले के पुल का भी शिलान्यास हो चुका है और इसके निर्माण का कार्य भी शुरू कर दिया गया है।

सलानी हरिजन बस्ती का पुल, सलानी टेडी बरोटी के पांच छोटे पुल, गुमटी पालियों में चार छोटे पुल, अंधेरी में रूण नदी पर बना बड़ा पुल, श्री त्रिलोकपुर के बुडढियों का बड़ा पुल, खांदा के नाले पर दो बड़े पुल भी बनाए जा चुके हैं। इस प्रकार इस विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत अब केवल 10 ही पुल ऐसे शेष बनने बाकी है जिनका खाका विधायक के द्वारा तैयार कर सरकार को भेजा जा चुका है।

विधायक डॉ. राजीव बिंदल का कहना है कि उम्मीद है जल्द ही विधानसभा क्षेत्र में बनने वाले शेष 10 बचे पुलों के लिए बजट और स्वीकृति आ जाएगी। यहां यह भी बताना जरूरी है कि मझाडा और नींम वाली का पुल जोकि सवा 9 और 9 करोड़ की लागत से बने हैं। यह वो पुल थे जिनके ना होने से इस क्षेत्र के सैकड़ों ग्रामीणों को बरसात के दिनों में भारी परेशानियां उठानी पड़ती थी।

बरहाल, विधायक डॉ. राजीव बिंदल लगातार अपने विधानसभा क्षेत्र में जनता के बीच बने हुए हैं। फील्ड में जाने से पहले वह अपने निवास स्थान पर करीब 2 से 3 घंटे नियमित रूप से जन समस्या सुनते हैं।

वही, विधायक डॉ राजीव बिंदल ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की जयराम सरकार ने बीते 4 सालों में नाहन विधानसभा क्षेत्र के लिए करोड़ों के विकास कार्य किए हैं। उन्होंने कहा कि आज नाहन विधानसभा क्षेत्र प्रदेश के अन्य क्षेत्र की तुलना में सुविधा संपन्न हुआ है। जिसके लिए उन्होंने सिरमौर की जनता की ओर से जयराम सरकार का आभार भी व्यक्त किया है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो