डॉ राजीव बिंदल ने अपनी ही सरकार को घेरा, इन्वेस्टर मीट और प्रदेश में उद्योगों की….

HNN/ शिमला

मानसून सत्र के दूसरे दिन जहां विपक्ष ने वॉकआउट किया तो वहीं दूसरी तरफ सत्ता पक्ष के विधायक सरकार से सवाल करते नजर आए। नाहन के विधायक डॉ राजीव बिंदल ने अपनी ही सरकार को घेरा। इसके अलावा पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और पूर्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने अपनी ही सरकार के आगे सवाल खड़े कर दिए। बता दें कि मानसून सत्र के दूसरे दिन बिंदल ने अपनी ही सरकार से इन्वेस्टर मीट और प्रदेश में उद्योगों की स्थापना के संबंध में कड़े सवाल किये है।

उन्होंने पूछा कि इन्वेस्टर मीट और इसकी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के बाद प्रदेश में कितने लोगों को उद्योगों में प्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। तीन साल में संभावनाओं के अनुरूप प्रदेश सरकार कितनी आगे बढ़ी। एक वर्ष में कितने रोजगार बढ़ने की उम्मीद है। वहीँ, जवाब में उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर के तहत 14500 करोड़ की पहली ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के बाद 70 फीसदी उद्योगों ने अपना काम शुरू कर दिया है।

सितंबर में 10 हजार करोड़ की दूसरी ग्राउंड ब्रेकिंग करने जा रहे हैं। तीन हजार 444 प्रोजेक्ट मुख्यमंत्री स्वाबलंबन योजना में स्थापित किए गए। 9,435 लोगों को रोजगार दिया है। दोनों ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के बाद 25 हजार करोड़ रुपये करोड़ का निवेश होगा। 50 हजार लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। 

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो