ढाबों पर लोगों को खिलाया जा रहा है तेल से तैयार किया मक्खन

HNN News/ सोलन

ढाबों में मक्खन के नाम पर लोगों को मारग्रेन परोसने पर खाद्य सुरक्षा विभाग ने 10 ढाबा मालिकों को नोटिस भेजा है। हिमाचल के सोलन जिला के कसौली में सड़क किनारे ढाबों सहित अन्य स्थानों पर विभाग ने निरीक्षण के दौरान यह कार्रवाई की।

ढाबों से मक्खन से सैंपल भरे गए। विभाग ने उक्त कारोबारियों को नोटिस जारी किए हैं। वनस्पति तेल और घी से तैयार किए जा रहे मक्खन पर प्रतिबंध है। यह मक्खन तय मानकों के अनुरूप नहीं है। इस वजह से विभाग ने सैंपल भरे हैं।

ढाबा संचालक लाभ कमाने के लिए बाजार से खरीदे के वनस्पति तेल और घी को देसी विधि से मक्खन में ढाल रहे हैं और इस मारग्रेन पदार्थ को लोगों को परोसा जा रहा है। जिसका सेहत पर विपरीत असर पड़ता है।

अधिक मक्खन खाने से तबीयत खराब हो सकती है। पेट दर्द या उल्टी हो सकती है। 15 दिन में संतोषजनक जवाब न आने पर नियमानुसार कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। कार्रवाई की भनक लगते ही कई ढाबा मालिकों ने मक्खन को दुकानों से बाहर फेंक दिया। सैंपल लेने के बाद संयुक्त जांच प्रयोगशाला कंडाघाट भेजा गया है।

इसकी रिपोर्ट दो हफ्ते में आने की संभावना है। सैंपल फेल होने की सूरत में कार्रवाई को अंजाम दिया जाएगा। लोगों को निम्न स्तर के तेल से बना मक्खन दिया जा रहा है। जिससे जहां लोगों को घटिया पदार्थ परोसे जा रहे हैं, वहीं अधिक कीमत लोगों को चुकानी पड़ रही है।

इससे पूर्व भी दिवाली को लेकर विभिन्न स्थानों पर औचक निरीक्षण के दौरान 27 मिठाइयों के सैंपल भरे थे। जिसका खुलासा भी रिपोर्ट आने के बाद होगा। उक्त कारोबारी लोगों को मक्खन की बजाए 10 रूपये में मारग्रेन बेचकर चूना लगा रहे थे।