दिल्ली पुलिस-वकीलों में झड़प मामला/ समर्थन में एक दिन का उपवास रखेगी हिमाचल पुलिस

HNN News/ शिमला

दिल्ली में वकीलों और पुलिस के बीच हुई झड़प के बाद मचे बवाल को लेकर हिमाचल पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन दिल्ली पुलिस के समर्थन में उतरी है।

पूरी घटना की निष्पक्ष जांच और पुलिस जवान की पिटाई के विरोध में प्रदेश के करीब 17 हजार पुलिसकर्मी 10 नवबंर को उपवास रखेंगे। पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन का कहना है कि हिमाचल के सभी पुलिसकर्मी हर पीड़ित पुलिस कर्मचारी के साथ खड़े हैं।

एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष रमेश चौहान ने कहा कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो और जो भी दोषी पाया जाए, उसके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा कि पुलिस और वकील दोनों कानून के जानकार हैं और किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं है।

दिल्ली पुलिस के एक जवान की पिटाई का जो वीडियो वायरल हुआ है, उस पर पुलिस एसोसिएशन का कहना है कि यह दिल्ली नहीं, बल्कि पूरे भारत की पुलिस का अपमान है।

अदालत के सामने हुई यह घटना शर्मनाक है। एसोसिएशन का यह भी कहना है कि ऐसे मौकों पर अपने बचाव के लिए पुलिस कर्मचारियों को छूट दी जानी चाहिए। हिंसा का पक्ष नहीं लिया जा सकता लेकिन अदालत के बाहर फैसला करना उचित नहीं है।

8 नवंबर को दिल्ली में प्रस्तावित ऑल इंडिया पुलिस फेडरेशन की बैठक में भी हिमाचल पुलिस वैलफेयर एसोसिएशन से 10 सदस्य हिस्सा लेंगे। इसमें सीआईडी, आरएनटी, विजिलेंस, वाहिनी के अलावा जिलों और जेल पुलिस के लोग भी शामिल होंगे।