दिवाली की रात घर से लापता हुए 5 वर्षीय मासूम का जंगल से बरामद हुआ शव

HNN/ शिमला

राजधानी शिमला के डाउनडेल से दिवाली की रात घर से संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुए 5 वर्षीय मासूम का शव 2 दिन बाद जंगल से बरामद किया गया है। बता दे कि आज सुबह खोजी कुत्तों की सहायता से सर्च अभियान शुरू किया गया था। इस दौरान 5 वर्षीय मासूम का शव क्षत-विक्षत हालत में घर से तकरीबन आधा किलोमीटर दूर झाड़ियों से बरामद हुआ।

हैरान कर देने वाली बात तो यह है कि बच्चे का शव दो हिस्सों में बटा हुआ था। बता दें कि पांच साल का बच्चा योगराज पुत्र केदार नाथ डाउनडेल बस्ती में मंदिर के पास बने एक कच्चे मकान में परिवार के साथ रहता था। गुरुवार रात करीब आठ बजे योगराज पड़ोसी के एक बच्चे के साथ घर के आंगन में खेल रहा था। इसी दौरान अचानक ही बच्चा यहां से एकाएक गायब हो गया।

जिसके बाद योगराज के साथ खेल रहे दूसरे बच्चे ने कहा कि कोई जानवर उसे उठा ले गया है। लिहाज़ा चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई और बच्चे को ढूंढने का प्रयास किया गया परंतु उसका कहीं भी कुछ पता नहीं चल सका। तो वहीं दूसरी तरफ पुलिस प्रशासन और वन विभाग की टीम ने भी लगातार बच्चे को ढूंढने का प्रयास किया परंतु उसका कहीं कुछ पता नहीं चल पाया।

लिहाजा आज फिर सर्च अभियान चलाया गया और घर से कुछ ही दूरी पर मासूम का शव झाड़ियों से बरामद कर लिया गया। हालांकि बच्चे की मौत कैसे हुई है इसके कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है। पहले कयास लगाए जा रहे थे कि आदमखोर तेंदुए ने बच्चे को उठा लिया परंतु बड़ा सवाल यह भी उठता है कि पटाखों के शोर के बीच तेंदुआ कैसे आ सकता है। लिहाजा मौत की वजह जो भी हो पुलिस हर पहलू से जांच में जुट गई है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो