देवनी पंचायत की उप प्रधान पर जानलेवा हमला- बीजेपी ज्वाइन करने की थी रंजिश

बीपीएल का मुद्दा बनाकर किया गया जानलेवा हमला, गंभीर हालत में उपप्रधान नाहन मेडिकल कॉलेज में एडमिट

HNN News नाहन

बीते कल बुधवार की सुबह 7:00 बजे नाहन विधान सभा क्षेत्र के अंतर्गत देवनी पंचायत की उपप्रधान शबनम बेगम पत्नी अरशद अली पर गांव के दबंगों ने जानलेवा हमला किए जाने का मामला सामने आया है।

यही नहीं पंचायत के उपप्रधान पर धोखे के साथ गले में चुन्नी डाल कर जान से मारने के प्रयास का वीडियो भी वायरल हो रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार उपप्रधान शबनम बेगम के गांव लाल पीपल निवासी तौकीद अली, निशा, रजिया ,कल सुमन ,सलमा, कुर्बान आदि ने समूह बनाकर इस हमले को अंजाम दिया है।

शबनम बेगम ने दर्ज की गई f.i.r. के अनुसार बताया कि बुधवार की सुबह करीब 7:30 पर सलमा पत्नी फतेह अली योजना बनाकर उसके घर में जबरन घुस आए। तभी आरोपी रजिया बेगम ने पीछे से आकर उसके गले में चुन्नी डाल दी और नीचे गिरा दिया।

नीचे गिरते ही उपप्रधान शबनम पर यह सभी बुरी तरह टूट पड़े। इस दौरान उपप्रधान शबनम का पति अरशद व बेटी घर पर थी। शबनम को बचाने के लिए इन्होंने जोर जोर से चीखना चिल्लाना शुरू कर दिया। उपप्रधान ने कि तभी गांव के कुछ लोग भी बीच-बचाव करने आ गए। मगर इन लोगों ने तब तक इसे बुरी तरह जख्मी कर दिया था।

असल में मामला कुछ इस प्रकार से था कि विधानसभा चुनाव के दौरान शबनम बेगम ने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी ज्वाइन की थी। बताया जाता है कि गांव की एक दबंग महिला शबनम और फतेह अली को यह बात नागवार गुजरी की शबनम ने बीजेपी क्यों ज्वाइन की।

इस घटना के काफी समय बाद गांव में हुए बीपीएल सर्वे के अनुसार नियाज का नाम काटकर एक निर्धन महिला परवीन बेगम का नाम बीपीएल में चढ़ाया गया था। कल हुई घटना से 4 दिन पहले इन दबंग कथित गुंडों ने परवीन बेगम के पति आशिक अली का सिर झगड़ा कर फाड़ दिया था।

गांव की उपप्रधान होने के नाते शबनम बेगम ने आशिक अली का मेडिकल करवाकर उसकी ओर से काला आम थाना में एक रपट भी दर्ज की थी। इस को लेकर सलमा उसका बेटा, पति फतेह अली ने उपप्रधान को देख लेने की धमकी दी।

उन्होंने कहा कि तुम्हें प्रवीण के नाम की जगह सलमा के बेटे अमजद का नाम बीपीएल सूची में चढ़ाना चाहिए था। इस पर उपप्रधान शबनम बेगम ने समझाया कि यह नाम मैंने नहीं बल्कि सर्वे में कटा है। बात बढ़ते बढ़ते बुधवार को बड़े झगड़े में बदल गई।

उपप्रधान शबनम बेगम को बेहोशी की हालत में कल बुधवार को नहान मेडिकल कॉलेज एडमिट कराया गया था। जिसे आज वीरवार को दिन में होश आई। उपप्रधान ने इसकी लिखित शिकायत एसपी सिरमौर को भी दी। जिसके बाद उप प्रधान के बयान लेकर मामला दर्ज कर लिया गया है।

इस मामले में पुलिस ने भी त्वरित कार्यवाही करते हुए नामजद किए गए आरोपी तौकीद अली, निशा, रजिया, कल सुमन, कुर्बान को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि पुलिस अभी तक सलमा को गिरफ्तार करने में नाकाम रही है। उपप्रधान का यह कहना है कि इस हमले की मुख्य साजिशकर्ता सलमा पत्नी फतेह अली है।

उधर जिला भाजपा अध्यक्ष विनय गुप्ता ने देवली पंचायत के उपप्रधान शबनम बेगम पर हुए जानलेवा हमला की कड़े शब्दों में आलोचना की है। उन्होंने पुलिस से फरार आरोपी सलमा को भी जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के लिए कहा है।