नहीं रहे हिमाचली संगीत के सहगल, हार्ट अटैक से हुई मौत

HNN/ नाहन

संगीत की दुनिया में अपनी अलग पहचान रखने वाले धर्मदत्त सहगल के निधन की खबर सुनकर समूचे जिला सिरमौर में शोक की लहर दौड़ गई है। बता दें कि रक्षाबंधन के दिन यानी कि आज लोक गायक नाहन शहर के यशवंत विहार निवासी धर्म दत्त सहगल की हार्ट अटैक से मृत्यु हो गई है। धर्म दत्त सहगल की मृत्यु की खबर सुनकर खुशियां गम में बदल गई है।

आपको बता दें कि सहगल को शनिवार को नाहन में उनके आवास पर अचानक हार्ट अटैक आया। जिसके बाद परिजनों द्वारा उन्हें डॉ वाईएस परमार मेडिकल कॉलेज नाहन पहुंचाया गया जहां से चिकित्सकों ने उन्हें पीजीआई रेफर कर दिया था परंतु पीजीआई में उपचार के दौरान धर्मदत्त सहगल का निधन हो गया।

इससे पहले धर्मदत्त सहगल को बीते सप्ताह ही हार्ट अटैक का माइनर अटैक आया था। जिसके बाद उनके परिजन उन्हें अस्पताल लेकर गए जहां से प्राथमिक उपचार देने के उपरांत उन्हें घर भेज दिया गया था। वही धर्मदत्त सहगल ना केवल जिला सिरमौर बल्कि पूरे हिमाचल में हिमाचली लोक संगीत व गजल के लिए पहचाने जाते थे।

बता दें कि वर्तमान में धर्मदास सहगल राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय नहान में संगीत के शिक्षक थे जबकि पूर्व में वह राजकीय महाविद्यालय नाहन में भी संगीत विभाग में कई वर्षों तक सेवाएं दे चुके हैं। यही नहीं धर्मदत्त सहगल नाहन में युवा पीढ़ी को पिछले कई सालों से संगीत की शिक्षा प्रदान कर रहे थे।

गौरतलब हो कि सहगल संगीत घराने का प्रतिनिधित्व करते आए हैं। उनके पिता सिरमौर के राजा के दरबारी गायक थे। संगीत की कला सहगल को विरासत में मिली है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो