नाहन/ फांसी के फंदे पर झूला ढाबा मोहल्ले का युवक

दरवाजा तोड़कर पुलिस ने फंदे से उतारा अमित को, सुसाइड नोट में नहीं ठहराया किसी को मौत का जिम्मेदार

HNN News नाहन

नाहन शहर के ढाबों मोहल्ला में 33 वर्षीय अमित पुंडीर ने छोटी दीवाली की रात को फांसी के फंदे पर झूल कर अपनी ईह लीला समाप्त कर ली है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अमित पुंडीर कार्मेल कान्वेंट स्कूल की बस में कंडक्टर का कार्य करता था। अपनी नौकरी को लेकर भी उसे कोई शिकायत नहीं थी। घर में भी कभी कोई ऐसी लड़ाई झगड़े या किसी बात को लेकर कहासुनी कभी नहीं हुई थी।

बताया जा रहा है कि शनिवार की रात को 10:00 बजे के के लगभग अमित कि अपनी पत्नी से हल्की फुल्की सी बात हुई थी। इस नाराजगी को लेकर पति पत्नी दोनों अलग-अलग कमरे में सो रहे थे। सुबह जब पत्नी ने दरवाजा खोलने के लिए कहा तो अंदर से कोई आवाज नहीं आई।

बार-बार दरवाजा पीटने पर भी कोई उत्तर न मिलने पर घरवालों ने शोर मचाया। जिसके बाद साथ रहते घर से लोग मौके पर पहुंच चुके थे धक्का मारकर दरवाजे को तोड़ा गया तो देखा कि अमित फांसी के फंदे पर झूला हुआ था।

यह सब देखकर घर में चीख-पुकार मच गई। इस घटना की बाबत पुलिस को सूचना दी गई मौके पर पुलिस भी पहुंची।

पुलिस ने अमित को फांसी के फंदे से उतारकर मौके पर जामा तलाशी ली। सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है मगर उसमें किसी को अपनी मौत का जिम्मेवार नहीं ठहराया गया है। बताया यह भी जा रहा है कि इनके यहां कोई संतान नहीं थी।

उधर शहर कोतवाल मानवेंद्र ठाकुर ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि मामले में जांच की जा रही है शव का पंचनामा करवाया जा रहा है।