नाहन बस अड्डे पर है गंदगी का राज़

बहुमंजिला पार्किंग प्रोजेक्ट पर भी लगा है लम्बे समय से विराम

HNN News/ नाहन

जिला सिरमौर मुख्यालय नाहन स्थित मुख्य बस अड्डा की हालत बद से भी बत्तर हो चुकी है विरासत को तोड़ कर बनाए गए इस बस अड्डे पर इन दिनों गंदगी का सम्राज्य बना हुआ है। बस अड्डे में जहाँ आई.पी.एच का बड़ा पानी का टैंक बनाया गया है। वह स्थानीय लोगो व यात्रियों के लिए शौचालय जाने का स्थान बनकर रह गया है।

बस अड्डे के बीचों बीच बनाया गया रॉटरी पार्क जोकि अड्डे की सुंदरता पर बदनुमा दाग साबित हो रहा है। चारो और मखियाँ मचछर इसके अलावा पालतू सुअरो का अड्डे के पास भ्रमण होता रहता है।

आवारा पशु अक्सर अड्डे पर घूमते नज़र आते है। हैरानी इस बात कि है की बाहरी राज्य से हिमाचल प्रदेश में बस के माध्यम से आने वाले पर्यटकों के मन पर बस अड्डे की हालत देखते ही प्रदेश की खराब छवि नजर आ जाती है। यहाँ की गंदगी को देखकर पर्यटक भी मायूस हो जाते है।

स्थानीय विधायक जो की विधानसभा अध्यक्ष भी है, उन्होंने इस अड्डे के जीर्णोध्दार के लिए बड़ी अच्छी योजना भी बनाई थी मगर लंबे समय से यहाँ बनने वाली पार्किंग का कार्य भी अटक गया है। यही नहीं बस अड्डे पर पहले कभी पुलिस पोस्ट हुआ करती थी। मगर अब वहां न ही कोई पुलिस का कर्मचारी और न ही कोई हॉमगार्ड का जवान न्युक्त रहता है।

अड्डे पर अक्सर मनचले भी युवतियो पर फवतीयां कस्ते नजर आते है। अड्डे पर केवल परिवहन विभाग की केंटीन है जो साफसुधरी व कम दामों के साथ यात्रिओ को चाय पानी से लेकर खाना आदि की सुविधा उपलब्ध करवाती है। इसके इलावा अधिकतर दुकानदार हर चीज़ो को महंगे दामों पर बेचते है।

बस अड्डे के साथ बाजार की और जाने वाली सीढ़िया अक्सर दुर्घटना का कारण बनी रहती है। बस पकड़ने की जल्दी में सीढ़ियों से गिरने का डर बना रहता है। स्थानीय लोगो की मांग है कि इन सीढ़ियों को बंद करके रास्ता पानी की टंकी के पास से पीछे की सड़क में मिलाया जाए । कुल मिलाकर कहा जा सकता है शहर का दिल कहलाने वाला मुख्य बस अड्डा असुविधाओं व अवयवस्थाओ को लेकर वेंटिलेटर पर चल रहा है।

सिरमौर परिवहन निगम के रीजनल मैनेजर राशित शेख ने बताया कि निगम कार्य में कुछ पेड़ बीच में आ गए थे। लोग अपने घरो का कूड़ा कचरा रात के समय बस स्टैंड में ड़ाल देते है इसके लिए नाहन नगर परिषद् को सख्त कार्यवाही अमल में लानी होगी।