नाहन शिमला रोड कारमेल के समीप फिर पलटा ट्रक दो घायल

नगर परिषद नाहन
सार्वजनिक सूचना

सर्वसाधारण को एतत् द्वारा सूचित किया जाता है कि नगर परिषद नाहन में सीएलसी के माध्यम से 50 सफाई कर्मचारियों की सफाई कार्य के लिए आवश्यकता है। जो भी व्यक्ति जिसकी आयु 18 वर्ष से अधिक हो और नगर परिषद क्षेत्र नाहन में सफाई का कार्य करने का इच्छुक हो वह सीएलसी नाहन में निर्धारित फीस 150, आधार कार्ड फोटो, बैंक खाता और निवास का प्रमाण पत्र देकर अपना नाम दर्ज़ करवा सकता है। हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा समय-समय पर निर्धारित दैनिक दरों के आधार पर वेतन दिया जाएगा।

सचिव सीएलसी (शहरी आजीविका केंद्र) नगर परिषद नाहन जिला सिरमौर (हिमाचल प्रदेश)
कार्यकारी अधिकारी एवं अध्यक्ष सीएलसी (शहरी आजीविका केंद्र) नगर परिषद नाहन जिला सिरमौर (हिमाचल प्रदेश)

1 सप्ताह में चौथी घटना खराब सड़क बनी दुर्घटना का कारण

HNN News नाहन

जिला मुख्यालय नहान से शिमला की ओर जाने वाले एनएच पर आईटीआई के समीप एक ट्रक संख्याHP16A8585 ब्रेक फेल होने से पलट गया है । करीब 9:30 बजे के आसपास अभी रात को हुई इस दुर्घटना में ट्रक का मालिक बल मोहन और चालक साथ में था।


प्राप्त जानकारी के अनुसार यह ट्रक काला आम से सरिया लोड कर शिमला की ओर जा रहा था। कारमेल के ठीक सामने खराब सड़क पर खड्डे को बचाते हुए जैसे ही चालक ने ब्रेक दबाया गाड़ी के ब्रेक फेल हो गए। चालक ने सूझबूझ का परिचय देते हुए गाड़ी को ढाग से टकराते हुए पलटा दिया। चालक अगर ऐसा ना करता तो भीषण दुर्घटना भी हो सकती थी।

इस दुर्घटना में रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र के संगड़ा ब्लॉक के अंतर्गत सिऊ गांव के चालक और मालिक दोनों घायल हो गए हैं। स्थानीय निवासी हरदेव सिंह ने 108 को इस दुर्घटना की सूचना दी। जिसके बाद घायलों को नहान मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार चालक और गाड़ी के मालिक दोनों घायलों की हालत खतरे से बाहर है।

बरहाल मौके पर पुलिस भी पहुंच गई थी। सवाल तो यह उठता है कि 1 सप्ताह में एक चौथी घटना है। लगातार हुए इस ब्लैक स्पॉट पर एक व्यक्ति की हाल ही में दो ट्रकों के बीच में कुछ ले जाने के कारण मौत हो गई थी। इसके बाद दो ट्रक और असली परी टाइलों की वजह से अनियंत्रित होकर पलट गए थे। आज हुई है घटना चौथी घटना बताई गई है।

बता दें कि यह राष्ट्रीय राजमार्ग है जो नाहन से कुमार हट्टी तक जाता है। सरकार व जिला प्रशासन लगातार हुई इन घटनाओं को लेकर जरा भी गंभीर नजर नहीं आ रहा है। हैरानी तो इस बात की है कि शहर को इस समय बाईपास की सख्त दरकार है। बावजूद इसके प्रदेश सरकार इस पर कोई गंभीरता नहीं ले रही है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो