पंचायत प्रतिनिधियो को दी जल सरक्षण की जानकारी

HNN News / नाहन

आईपीएच विभाग की ओर से डीआरडीए भवन नाहन में वीरवार काे नाहन विकासखंड के पंचायत प्रतिनिधियाें के लिए जागरूक्ता कायर्शाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में पंचायत प्रतिनिधियाें काे पेयजल संरक्षण व पेयजल स्त्राेताें की सफाई रखने के अलावा वर्षा जल संरक्षणा के बारे में जानकारी प्रदान की गई। स्वास्थय विभाग के चिकित्सक डा. निसर अहमद ने पंचायत प्रतिनिधियाें काे पानी का सद उपयाेग करने व दूषित जल से फैलने वाली बिमारियाें के बारे में बताया।

उन्हाेंने कहा कि दूषित जल का सेवन करने से कई बीमारियाें के फैलने का खतरा रहता है। इसमें हैजा मुख्य है। इसके अलावा उन्हाेंने अन्य जलजनित राेगाें व बचाव के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की। आईपीएच विभाग नाहन के एसडीओ जितेंद्र ठाकुर ने बताया कि भूजल का स्तर दिनों दिन गिरता जा रहा है। वर्षा जल संरक्षण वाटर रिसोर्स काे रिचार्ज करने का मुख्य स्त्राेत है। उन्हाेंने पंचायताें के प्रतिनिधियाें काे वर्षा जल भंडारण टैंक सहित जाेहडाें व तालाबाें के निर्माण के लिए प्रेरित किया।

ताकि भू-जल के स्तर में सुधार हाे सके। इस दाैरान उन्हाेंने पंचायताें में स्थित वाटर रिसोर्स का क्लाेरीनेशन के बारे में भी जानकारी दी। विभाग की बीआरसी जािहदा मिलक ने बताया कि पानी किसी भी जीव के लिए अमूल्य है। पानी काे आने वाली पीढियाें के लिए बचाकर रखना आवश्यक है। उन्हाेंने पेयजल स्त्राेताें की जांच करवाने व फिल्ड वाटर टेस्टिंग किट के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की।

Test