पांच वर्षीय बच्‍ची काे उठाने वाले तेंदुए को मानवाधिकार आयोग ने आदमखोर किया घोषित

HNN / शिमला

राजधानी शिमला के कनलोग में 5 वर्षीय मासूम बच्ची उठाने वाले तेंदुए को मानवाधिकार आयोग ने आदमखोर घोषित किया है। मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति पीएम राणा ने आदेश जारी करते हुए कहा कि या तो तेंदुए को तत्काल जिंदा पकड़ा जाए या फिर उसे तुरंत मार दिया जाए। साथ ही उन्होंने 1 महीने के भीतर आसपास के सभी तेंदुओं को टैग और चिन्हित करने के लिए भी कहा है।

गौरतलब हो कि दिवाली की देर रात भी एक तेंदुआ 5 वर्षीय बच्चे को उठाकर ले गया था। जब बच्चे का शव मिला तो हर कोई हैरान था। शिमला में इस तरह की दो घटनाएं सामने आने के बाद आशंका जताई जा रही है कि इसी तेंदुए ने कनलोग की 5 वर्षीय बच्ची पर हमला किया था। ऐसे में अब इस तेंदुए को पकड़ने और मारने के लिए वन विभाग जुट गया है।

उधर, 5 वर्षीय बच्ची की दादी को 400000 रुपए की धनराशि जारी करने के भी आदेश दिए गए हैं। वही, स्‍थानीय विधायक एवं प्रदेश सरकार में मंत्री सुरेश भारद्वाज ने हाट स्‍पाट चिह्नित करने का आदेश दिया है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो