पुलिस प्रशासन और श्रद्धालुओं के बीच रात भर चलती रही बहस बाजी, जमकर हुआ हंगामा

HNN/ ऊना

श्रावण अष्टमी मेलों के दौरान हिमाचल के शक्तिपीठों में दर्शन के लिए बाहरी राज्यों से भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं परंतु बिना आरटी पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट या वैक्सीन की दोनों डोज के सर्टिफिकेट के बिना किसी भी श्रद्धालु को मंदिर में एंट्री नहीं मिल रही है। प्रदेश सरकार के दिशा निर्देश अनुसार ऐसे श्रद्धालुओं को पुलिस प्रशासन द्वारा नाके पर ही रोका जा रहा है तथा वहीं से वापस भी भेजा जा रहा है।

परंतु बावजूद इसके कुछ श्रद्धालु प्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों का जमकर उल्लंघन करते नजर आ रहे हैं तथा पुलिस प्रशासन से उलझ रहे हैं। ऐसे में अन्य श्रद्धालुओं और आम लोगों को भी काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। खासकर चिंतपूर्णी माता के दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं की दबंगई देखने को मिल रही है।

यहां पुलिस प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं से आरटी पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट या वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने का सर्टिफिकेट मांगा जा रहा है तो श्रद्धालु पुलिस प्रशासन से ही उलझ रहे हैं। इतना ही नहीं रातभर श्रद्धालुओं की पुलिस व प्रशासन के साथ बहसबाजी चलती रही।

इस दौरान श्रद्धालुओं ने रात भर चक्का जाम किया जिसे सुबह कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा खुलवाया गया है। इतना ही नहीं सड़क पर बैठे पंजाब के श्रद्धालुओं ने प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। वही डीसी ऊना ने पुलिस कर्मियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि किसी भी श्रद्धालु को बिना जांच के प्रवेश ना दिया जाए।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो