पॉलिसी के तहत 2017 बैच नियमित न किए जाने पर धरने पर बैठे पीस मील कर्मचारी मंच के सदस्य

HNN/ नाहन

वर्ष 2017 बैच को पॉलिसी के तहत नियमित न किए जाने पर एचआरटीसी वर्कशॉप के प्रांगण में पीस मिल कर्मचारी मंच का धरना को शुरू हो गया। मंगलवार को शुरू हुआ पीस मिल कर्मचारी मंच का यह धरना 26 अगस्त तक चलेगा। इस दौरान मंच के सदस्य अपना काम काज छोड़ कर धरने पर बैठ गए है। मंच की टूल डाउन हड़ताल से जहां एचआरटीसी वर्कशॉप का काम प्रभावित होगा, वहीं सरकार को कहीं न कहीं नुक्सान होगा। धरने पर मंच के दो दर्जन के करीब सदस्यों ने भाग लिया।

पीसमिल करचारी मंच के प्रधान जगदीश चंद ने बताया कि टूल डाउन हड़ताल का हमें बड़ा दुख है। उन्होंने कहा कि हमारी हड़ताल से जहां हिमाचल के लोगो को कठिनाई होगी, वहीं एचआरटीसी में बसों को भी नुक्सान होगा। उन्होंने कहा कि पीस मील कर्मचारी मंच के कर्मचारी जिसने पांच साल का आईटीआई का डिप्लोमा नहीं किया है उसके लिए 6 वर्ष पॉलिसी बनाई गई थी। इसके चलते इन्हे अनुबंध में लिया जाता था। उन्होंने कहा कि इससे पहले चार बेच रेगुलर हो चुके है।

मगर 2017 के बाद कोई भी बेच को रेगुलर नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि 2017 से इस लड़ाई के लिए लड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस लड़ाई में कई कर्मचारी साथियों ने अपने शरीर के कई अंग गवाएं है। साथ ही कई साथी अपनी जान भी गवां चुके है। उन्होंने कहा कि सरकार हमारी 5 और 6 सालों वाली पालिसी को नहीं मान रही है। उन्होंने कहा कि अपनी मांगों को मनवाने के लिए हमने 17 अगस्त से लेकर 26 अगस्त तक धरना दिया जाना है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो