प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत इतने गांव चिन्हित

HNN News /  सोलन  

प्रदेश के अनुसूचित जाति बहुल गांवों को आदर्श गांव में परिवर्तित करने के लिए प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत 178 गांव चिन्हित किए गए हैं। योजना के तहत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा 18.86 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं। यह जानकारी आज सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के कलाकारों द्वारा सोलन जिला के कसौली तथा दून विधानसभा क्षेत्रों की विभिन्न ग्राम पंचायतो में दी गई।

हिम सांस्कृतिक दल ममलीग तथा सप्तक कला मंच के कलाकारों ने प्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग के कल्याण के लिए कार्यान्वित की जा रही योजनाओं के प्रचार-प्रसार की कड़ी में कसौली विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत नेरीकलां के कमलोग तथा ग्राम पंचायत काबाकलां के बोहड़ तथा सप्तक कलामंच के कलाकारों ने दून विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत जाडला तथा ग्राम पंचायत बुघारकनैता में प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान की।


कलाकारों हेमंत, चंद्रेश, संदीप, दिग्विजय, कमल, जय सिंह, रोहित, हेतराम, शीला कलसी, बबली, नीतू ने नुक्कड़ नाटक ‘फतू का ब्याह’ के माध्यम से अंतरजातीय विवाह, मुख्यमंत्री आदर्श ग्राम योजना, अनुवर्ती कार्यक्रम की जानकारी प्रदान की। कलाकारों ने बताया कि अनुवर्ती कार्यक्रम के माध्यम से अनुसूचित जाति, जनजाति तथा अन्य पिछड़े वर्ग के व्यक्ति जिनकी वार्षिक आय 35 हजार से कम हो तथा जिन्होंने आईटीआई या किसी अन्य प्रशिक्षण केंद्र से प्रशिक्षण प्राप्त किया हो, को स्वावलंबी बनाने के लिए सिलाई मशीन व उपकरण खरीदने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

कलाकारों ने सहारा योजना, मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना, सामाजिक सुरक्षा पैंशन, गृह अनुदान योजना की जानकारी प्रदान की। कलाकारों सतीश कुमार, गुरदास, परमिंद्र, बलदेव, चौहान, चंदूराम, जतिन, गीता ठाकुर, प्रेमलता, सुनीता, करीश्मा ने समूह गीत के माध्यम से प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जारी कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान की।

कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक ‘नशे रा हश्र’ के माध्यम से बताया कि विभिन्न प्रकार के नशे केवल हमें भ्रमित करते हैं और इनके सेवन से हमारा शरीर खोखला हो जाता है। नशे का आदी व्यक्ति नशे के लिए अपराध करता है तथा इस प्रकार अपने और अपने परिवार के लिए समस्याएं उत्पन्न कर देता है। कलाकारों ने बताया कि नशे से दूर रहने के लिए सर्वप्रथम युवाओं को नशे को न कहना सीखना होगा। यदि युवा यह प्रतिज्ञा कर लें कि वे स्वंय भी नशे से दूर रहेंगे और अपने साथियों को भी नशे से दूर रखेंगे तो समाज से नशे का खात्मा किया जा सकता है।

इस अवसर पर ग्राम पंचायत नेरीकलां के प्रधान बलवंत सिंह, उपप्रधान सतपाल, वार्ड सदस्य नीलम, किरना देवी, प्रकाश चंद, पपू राम, ग्राम पंचायत काबा कलां की प्रधान आशा ठाकुर, महिला मंडल प्रधान तारा देवी, सचिव खेमा देवी, सदस्य बिमला देवी, कांता देवी, ग्राम पंचायत बुघरकनैता के प्रधान हेमचंद, उपप्रधान किशोरी लाल, वार्ड सदस्य दीपा शर्मा, महिला मंडल प्रधान हेमा देवी, ग्राम पंचायत जाडला प्रधान रामकु देवी, उपप्रधान प्रेमचंद ठाकुर, वार्ड सदस्य आशा कंवर सहित काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Test