प्रधानमंत्री की रैली के बाद/पथराव में मारे गए हेड कांस्टेबल को दी गई आज अंतिम विदाई।

अपने को ही बचाने में नाकाम हो रही है पुलिस यह कहना है मारे गए कांस्टेबल के बेटे का।


प्रयागराज :प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के बाद उत्तर प्रदेश के गाजीपुर मे पथराव में मारे गए हेड कांस्टेबल सुरेश वत्स का अंतिम विदाई दी गई। शहूद सुरेश वत्स की पत्नी और परिवार वालों का रो रो कर बुरा हाल है। आज सोमवार सुबह नौ बजे प्रयागराज में उन्हें अंतिम विदाई दी गई।

शहीद की पत्नी का कहना है कि सरकार मुआवजे के बजाए इंसाफ दे उनका कहना है कि सिर्फ जांच और खानापूर्ति से इंसाफ नहीं मिलेगा। बता दें कि इस मामले में अभी तक 22 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गाजीपुर मामले पर योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि लापरवाही से घटना घटी है। सीएम खुद कहते हैं ठोक दो लेकिन लोग समझ नहीं पाते कि ठोकना किसे है।

योगी आदित्यनाथ सरकार ने पीड़ित परिवार को मुआवजा देने का एलान किया है। सरकार उनकी पत्नी को 40 लाख, माता पिता को 10 लाख और परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी देगी। शहीद सिपाही सुरेश वत्स की हत्या के केस में पुलिस को निषाद पार्टी के महासचिव की तलाश है।

अब किसी भी वाहन पर कोरोना वायरस आक्रमण नहीं कर पाएगा ।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *