प्राइवेट स्कूल अब नहीं ले सकेंगे हर नए सत्र में दाखिला फीस

HNN News/धर्मशाला

हिमाचल में प्राइवेट स्कूल अब हर शैक्षणिक सत्र में अभिभावकों से दाखिला फीस के नाम पर मनमानी वसूली नहीं कर सकेंगे। अनअकाउंटेड श्रेणी में लिए गए शुल्क पर शिक्षा विभाग कार्रवाई करेगा। प्रोस्पेक्टस इत्यादि की फीस ही लेनी होगी।

शिक्षा निदेशालय ने सभी उप निदेशकों को निर्देश जारी कर दिए हैं। मामला सामने आने पर संबंधित स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उप निदेशकों को स्कूलों के औचक निरीक्षण करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

प्रदेश भर में स्कूल शिक्षा बोर्ड के पास पंजीकृत करीब 1225 हाई और सीनियर सेकेंडरी स्कूलों सहित प्रारंभिक शिक्षा विभाग में पंजीकृत पांचवीं और आठवीं कक्षा तक के स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों के अभिभावकों को राहत मिलेगी।

कांगड़ा से संबंध रखने वाले निर्मल सिंह ने उच्च शिक्षा निदेशक को स्कूली बच्चों के पास होने पर हर साल प्रवेश शुल्क लेने की शिकायत की थी। शिकायत में बताया गया कि स्कूल प्रबंधन किताबें-कॉपियां आदि स्कूलों में बेच रहे हैं।

निदेशक उच्च शिक्षा ने स्कूलों में इन गतिविधियों को सख्ती से बंद करने के निर्देश जारी किए हैं। निदेशक उच्च शिक्षा अमरजीत शर्मा ने कहा सभी उपनिदेशकों को निजी स्कूलों में प्रोस्पेक्टस या अन्य दस्तावेजों में दर्शाई गई फीस से ज्यादा वसूली पर कार्रवाई अम्ल में लाई जायंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *