फोरलेन की जद में आने वाले 25 भवनों के बिजली-पानी के कटे कनेक्शन

2 बैकों, सीडीपीओ कार्यालयों व आंगनबाड़ियों पर भी चला प्रशासन का चाबुक

HNN/ बद्दी

पिंजौर-बद्दी-नालागढ़ फोरलेन की जद में आने वाले 25 भवनों के प्रशासन व एनएचएआई ने बिजली व पानी के कनेक्शन काट दिए। प्रशासन की पहली कार्रवाई के जद में आए भवनों में 2 बैंक, सीडीपीओ कार्यालय, आंगनबाड़िय़ां व अन्य रिहायशी भवन शामिल हैं। वहीं 185 भवनों को मिले 1 हफ्ते के आखिरी अल्टीमेटम की समय अवधी समाप्त होने के बाद प्रशासन ने कार्रवाई शुरू कर दी है।

जबकि बद्दी से नालागढ़ तक 15 भवन मालिकों ने खुद भवनों को गिराना शुरू कर दिया है। फाईनल अल्टीमेटम के बाद प्रशासन का रवैया सख्त है और पहली कार्रवाई में 25 भवनों के बिजली पानी के कनेक्शन काटे गए हैं और इसी तर्ज पर अगली कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। वहीं जिन सरकारी विभागों ने निजी भवन किराए पर ले रखे हैं उनको भी पहली कार्रवाई में कोई रियायत नहीं मिली।

जिससे साफ जाहिर होता है कि प्रशासन और एनएचएआई फोरलेन को लेकर कितना गंभीर है। दिसंबर में पिंजौर-बद्दी-नालागढ़ फोरलेन का काम शुरू होना है जिसकी जद में बद्दी से नालागढ़ तक 400 से अधिक भवन आएंगे। जबकि प्रशासन ने 185 उन भवन मालिकों को फाईनल अल्टीमेटम दे दिया था जिनको मुआवजा मिल चुका है और वह संपत्ति प्रशासन और एनएचएआई के नाम हो चुकी है।

एसडीएम नालागढ़ महेंद्र पाल गुर्जर ने बताया कि 25 भवनों के बिजली पानी के कनेक्शन काट दिए गए हैं, जिसमें बैंक, सीडीपीओ ऑफिस, आंगनबाड़िय़ां व अन्य भवन शामिल हैं। जबकि 15 भवन मालिकों ने खुद ही भवनों को तोडऩे का काम शुरू कर दिया है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो