बर्फ से प्रभावित पंचायतों मे विद्युत व पेयजल आपूर्ति बाधित

लोक निर्माण विभाग द्वारा जेसीबी मशीनों से हटाई जा रही है बर्फ 

HNN / संगड़ाह

बर्फ से प्रभावित उपमंडल संगड़ाह की तीन मुख्य सड़कों पर हिमपात जारी होने के चलते लोक निर्माण विभाग द्वारा यातायात बहाल नहीं किया जा सका। क्षेत्र की संगड़ाह-हरिपुरधार-चौपाल, नौहराधार-हरिपुरधार व संगड़ाह-गत्ताधार-शिलाई सड़कों पर हिमपात के चलते यातायात व्यवस्था पूरी तरह ठप पड़ी है। इन सड़कों पर जगह-जगह बर्फबारी के चलते 100 से अधिक वाहन फंस गए हैं, जिनमें से काफी गाड़ियां कल क्षेत्र में पड़ोसी राज्य अथवा अन्य क्षेत्रों से बर्फ देखने आए सैलानियों की बताई जा रही है।

बर्फ से प्रभावित सड़कों पर कुछ पर्यटक व स्थानीय लोग ड्राइविंग का जोखिम भी उठाकर बहादुरी दिखाने की भी कोशिश कर रहे हैं, जिससे वाहन हादसों का अंदेशा बढ़ गया हैं।‌ लोक निर्माण विभाग द्वारा हालांकि शनिवार को जहां बर्फ हटाने के लिए दो जेसीबी मशीनों की व्यवस्था की गई थी वहीं रविवार को छ: जेसीबी मशीनें लगाई गई, मगर इसके बावजूद हिमपात जारी होने के चलते किसी भी सड़क पर यातायात बहाल नहीं हो सका।

विभाग द्वारा रविवार बाद दोपहर हालांकि, संगड़ाह-नौहराधार मार्ग पर यातायात बहाल किया गया था, मगर बर्फबारी जारी होने के चलते शाम तक यह सड़क पर भी एक बार फिर बंद हो गई। नागरिक उपमंडल संगड़ाह की सांगना, सताहन, भलाड़, दिउड़ी, गेहल, बयोंग, डसाकना, भवाही, चाढ़ना, शिवपुर, नौहराधार, घंडूरी, दवामानल, भराड़ी, पुन्नरधार व चोकर आदि पंचायतों तीन दर्जन के करीब गांव मे बर्फबारी के चलते मूलभूत सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई है। इन गांवों संपर्क उपमंडल मुख्यालय संगड़ाह व जिला मुख्यालय से कट चुका है और लोगों को 20 किलोमीटर तक पैदल चलकर यातायात सुविधा मयस्सर हो पा रही है। बर्फ से प्रभावित पंचायतों में विद्युत आपूर्ति भी बाधित है और कुछ जगह पाईपलान जमने से पेयजल आपूर्ति भी ठप्प हो चुकी है।

उपमंडल मुख्यालय संगड़ाह में भी शनिवार के बाद रविवार को भी दो दर्जन अघोषित पावर कट लगे। पर्यटकों के लिए बेशक बर्फ से ढकी क्षेत्र की वादियां बेहतर सैरगाहें साबित हो रही हो, मगर यातायात, पेयजल व विद्युत आपूर्ति बाधित होने से स्थानीय लोग परेशान हो चुके हैं। संगड़ाह मंडल मे लोक निर्माण विभाग के पास एक भी यह स्नोकपर होने के चलते यहां जेसीबी मशीनों से बर्फ जाती है, जिससे न केवल सामान्य से ज्यादा समय लगता है, बल्कि पक्की सड़क उखड़ने की भी संभावना रहती है।

पंचायत प्रतिनिधियों ने हाल ही मे सभी विभागों के अधिकारियों को बर्फबारी से निपटने के प्रति स्तर्क कर चुके उपायुक्त सिरमौर से स्थिति की समीक्षा करने व मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने की अपील की। लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता संगड़ाह रतन शर्मा ने बताया कि, बर्फ हटाने के लिए छ: जेसीबी मशीनों की व्यवस्था की गई है, मगर कल से हिमपात न थमने के चलते यातायात बहाल करने में मुश्किल आ रही है।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो