बीपीएल परिवारों में जन्मी बेटियों को सरकार दे रही 21 हजार – सत्ती

HNN / ऊना, वीरेंद्र बन्याल

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने बीपीएल परिवारों में जन्म लेने वाली बेटी को मिलने वाली एफडीआर को 12 हजार से बढ़ाकर 21 हजार कर दिया गया है। यह बात छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना सप्ताह के समापन अवसर पर कही। इस कार्यक्रम के दौरान सत्ती ने 19 नवजात बेटियों को 12-12 हजार रुपए की एफडी भी प्रदान की। अपने संबोधन में सतपाल सत्ती ने कहा कि भ्रूण हत्या को रोकने के लिए प्रदेश सरकार व जिला प्रशासन ऊना ने अनेकों प्रयास किए हैं, जिससे आज समाज में सकारात्मक बदलाव देखने को मिल रहा है।

ऊना में शिशु लिंगानुपात बढ़ा है, जिसके लिए विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों के प्रयासों के साथ-साथ आम लोगों का सहयोग सराहनीय रहा है। जागरूकता व सामूहिक प्रयासों से आज बेटा-बेटी के बीच का भेद काफी हद तक समाप्त हो गया है। सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि महिलाओं को पोषण के प्रति जागरूक करने के लिए ही प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना सप्ताह का आयोजन किया गया।

उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को 5 हजार रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है तथा इस योजना के अंतर्गत जिला ऊना में 16,041 लाभर्थियों को 6.86 करोड़ रूपए का लाभ दिया गया है। उन्होंने बताया कि लाभार्थियों को यह राशि डीबीटी मोड के माध्यम से प्रदान की जाती है। सत्ती ने कहा कि जिला ऊना इस योजना के क्रियान्वयन में पूरे प्रदेश में पहले पायदान पर है तथा जिला ऊना में अंब इसमें सबसे आगे हैं।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो