भूरेश्वर महादेव मंदिर में माथा टेकने के बाद दयाल प्यारी उतरी मैदान में

बोली जनता कि मुझसे है बड़ी उम्मीद , नहीं लूंगी नामांकन वापिस आज से प्रचार प्रसार शुरू.. देखें वीडियो

HNN News/ सराहां

सोलन में चले हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद अब दयाल प्यारी पक्के तौर पर चुनाव मैदान में कूद पड़ी है। सोलन में सुबह से दोपहर तक चले कथित अपहरण आदि के ड्रामे के बाद यह तो साफ हो गया है कि दयाल प्यारी का कोई किडनैप नहीं हुआ था।

दयाल प्यारी अपने समर्थकों के साथ सोलन से स्कॉर्पियो नंबर एचपी 16a 0549 में सवार होकर सराहां स्थित भूरेश्वर महादेव के मंदिर में पहुंची। बता दें कि यह गाड़ी जो कि कथित अपहरण ड्रामा में की गई थी वह राजगढ़ में पंजीकृत है तथा निशा के नाम यह स्कॉर्पियो गाड़ी है।

यह गाड़ी दयाल प्यारी के समर्थकों की ही बताई जाती है। हिमाचल नाउ न्यूज़ ने यह पहले ही खुलासा कर दिया था कि यह कोई खेल खेला जा रहा है। बरहाल अब स्थिति साफ है की दयाल प्यारी आजाद उम्मीदवार के तौर पर प्रचार में डट गई है।

दयाल प्यारी ने कहा कि उसके समर्थक भारी संख्या में उसके साथ जुड़ चुके हैं। क्षेत्र की जनता तानाशाह की तानाशाही के खिलाफ आवाज बुलंद कर रही है। इसीलिए मैं जनता की आवाज बनकर चुनाव मैदान में उतरी हूं।