मणिमहेश यात्रा का रस्मी तौर पर होगा आयोजन, छड़ी यात्रा में शामिल होने वालो का…

HNN / चंबा

 श्री मणिमहेश यात्रा का आयोजन इस बार भी कोविड संक्रमण के दृष्टिगत रस्मी तौर पर ही होगा। आयुक्त   मंदिर ट्रस्ट एवं उपायुक्त चंबा डीसी राणा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में उपायुक्त ने कहा कि 29 अगस्त से 12 सितंबर तक आयोजित होने वाली श्री मणिमहेश यात्रा के दौरान धार्मिक रस्मो का निर्वहन  सीमित रूप में ही होगा। इस दौरान छड़ी यात्रा में 25 सदस्यों से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो पाएंगे। सचुँई के शिव चेलों की संख्या भी सीमित रूप में ही रहेगी। 

उपायुक्त ने कहा कि श्रावण अष्टमी  नवरात्रों के तहत आपदा प्रबंधन नियमों के तहत जारी नई दिशा निर्देशों के मुताबिक श्री मणिमहेश यात्रा में भी कोविड नियमों की अनुपालना को कड़ाई से सुनिश्चित किया जाएगा।
प्रशासन की अनुमति से छड़ी यात्रा में शामिल व शिव चेलों के लिए भी वैक्सीन की दोनों डोज लगी होनी चाहिए तथा 72 घंटे पूर्व आरटी पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट भी होना अनिवार्य होगी। उपायुक्त ने कहा कि भद्रवाह से आने वाली सभी छड़ियों में पच्चीस से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो पाएंगे।

राधा अष्टमी को ही इन लोगों के लिए यात्रा के दौरान व्यवस्था रहेगी । उपायुक्त ने निर्देश देते हुए कहा कि  कृष्ण जन्माष्टमी से पूर्व पुलिस विभाग द्वारा जिला के प्रवेश द्वारों पर चेक पोस्ट निगरानी के लिए  स्थापित की जाएगी। होली, तयारी, हड़सर, दुर्गेठी, राख, सुल्तानपुर,  लाहडू, लंगेरा, खैरी और तुनू हट्टी में भी चेक पोस्ट बेरियर स्थापित किए जाएंगे ताकि श्री मणिमहेश यात्रा के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को कोविड- संक्रमण से एहतियातन  रोका जा सके।


लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो