महंगाई के मुद्दे पर भाजपा को कुशल जेठी और अमन सेठी ने लिया आड़े हाथ

HNN/ शिमला

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में आयोजित संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता कुशल जेठी ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर महंगाई, बेरोजगारी व किसानो-बागवानों के मुद्दे पर कड़े आरोप लगाए। कुशल जेठी ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार के शासनकाल में महंगाई चरम सीमा पर पहुंच गई। पैट्रोल-डीजल लगातार बढ़ती कीमते, खाद्य वस्तुओं के दामों में वृद्धि व रसोई गैस सिलेंडर के दाम 1000 रूपये के पार हो गए हैं।

वहीं अब डिपुओं में मिलने वाली दालों के दामों में भी वृद्धि कर भाजपा सरकार ने प्रदेश की जनता की महंगाई से कमर तोड़ दी है। जिसका जवाब प्रदेश की जनता आगामी 30 अक्तूबर को देगी। उन्होंने किसानों-बागवानों के मुद्दे पर भी प्रदेश की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के शासन काल में किसान-बागवान सड़कों पर बैठा अपने हक की लड़ाई लड़ रहा है, परंतु भाजपा सरकार चुप्पी साधे बैठी है।

भाजपा शासनकाल के गत 4 वर्षों में प्रदेश में बेरोजगारों की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है, लेकिन भाजपा की भगवाधारी सरकार बिहार और यूपी के लोगों को रोजगार दे रही है। कुशल जेठी ने प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना मुफ्त बेबी केयर किट पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना के तहत उन लोगों को योजना का लाभ मिलता है जिनके बच्चे सरकारी अस्पताल में जन्मे हो।

उन्होंने कहा कि बेबी केयर किट के तहत जो 15 जरूरती वस्तुएं दी जाती है। उसका न्यूनतम खूदरा मुल्य 1074.98 रूपये है, जबकि जो वस्तुएं योजना के तहत दी जाती है, उनकी गुणवत्ता बहुत ही निम्न दर्जे की है। उन्होंने कहा कि उच्च गुणवत्ता की वस्तुएं जोकि बेबी केयर किट में दी जाती है, उन्हें बाजार से खरीदने का मूल्य 500 रूपये से भी कम है। उन्होंने कहा इसमें करोड़ों रूपए का भ्रष्टाचार हुआ है, जिसकी सीबीआई जांच की जानी चाहिए और प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री को तत्काल प्रभाव से इस्तीफा देना चाहिए।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो