मां नयना देवी के दर्शनों से पहले श्रद्धालुओं को दिखानी होगी नेगेटिव रिपोर्ट

लंगर, भजन, कीर्तन और प्रसाद चढ़ाने पर प्रतिबंध

HNN / बिलासपुर

विश्व विख्यात शक्तिपीठ नयना देवी में श्रावण अष्टमी मेलों के दौरान काफी संख्या में श्रद्धालु मां के दर्शनों के लिए दूर-दूर से आते हैं। तो वही कल से शुरू होने जा रहे श्रावण अष्टमी मेले में इस साल कोविड-19 महामारी के चलते प्रदेश सरकार ने फैसला लिया है कि बाहरी राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को 72 घंटे पहले की आरटी पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट या कोविड-19 की दोनों वैक्सीन का सर्टिफिकेट साथ लाना होगा।

उसके बाद ही श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा। तो वहीं इस बार मंदिर में ना कोई भजन-कीर्तन होगा ना ही कोई धार्मिक सभा होगी। इसके अतिरिक्त मंदिर परिसर में प्रसाद चढ़ाने पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। मंदिर में बिना मास्क किसी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा और सभी श्रद्धालुओं की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो