यातायात के नियमों का पालन गंभीरता से करें लोग- उपायुक्त

 इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम की कार्य योजना जल्द होगी तैयार   

HNN / चंबा

चंबा शहर में यातायात नियंत्रण को और अधिक प्रभावी रूप से व्यवस्थित करने के लिए इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम स्थापित करने के लिए कार्य योजना का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है जिसे जल्द ही प्रदेश सरकार को स्वीकृति हेतु भेजा जाएगा। उपायुक्त डीसी राणा ने जिला स्तरीय  सड़क सुरक्षा सप्ताह समिति की बैठक की जिला सूचना विज्ञान केंद्र के सभागार कक्ष से वर्चुअल माध्यम से अध्यक्षता करते हुए कहा कि शहर की यातायात नियंत्रण व्यवस्था को और बेहतर बनाने के लिए  इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम स्थापित किया जा रहा है।

इस प्रणाली से ना केवल ट्रैफिक कंट्रोल बेहतर रहेगा बल्कि शहर की निगरानी भी मजबूत रहेगी जिसके लिए कमांड एंड कंट्रोल सेंटर भी स्थापित किया जाएगा। जिसमें सभी ट्रैफिक से जुड़े हुए  कैमरों को कमांड  रूम से एकीकृत किया जाएगा। उपायुक्त ने सभी एसडीएम को उपमंडल स्तर पर ट्रैफिक पार्क सेटअप करने की कार्य योजना को जल्द अमलीजामा पहनाने के लिए  निर्देश देते हुए कहा कि इन पार्कों के माध्यम से लोगों को यातायात नियमों के बारे में शिक्षित किया जाएगा।

उपायुक्त ने यह भी निर्देश जारी किए की जेबरा क्रॉसिंग के सभी स्थल चिन्हित किए जाएं और विभिन्न स्थानों पर यातायात नियमो के साइनेज भी लगवाए जाएं। उपायुक्त ने यह भी कहा जिला के सभी शिक्षण संस्थानों में  रोड सेफ्टी के तहत 15 दिन में एक बार सड़क सुरक्षा व यातायात नियमों के बारे में जागरूकता  कार्यक्रम आयोजित करें। उन्होंने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि यातायात नियमों का गंभीरता से पालन किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि जिला में ड्राइविंग टेस्ट के लिए भूमि चिन्हित करने की संभावनाएं भी तलाशी जाएं।

लोक निर्माण विभाग व नेशनल हाईवे अथॉरिटी के अधिकारियों को उन्होंने निर्देश जारी करते हुए कहा कि ब्लैक स्पोट सुधारी करण कार्य को और तीव्र गति प्रदान करें  संवेदनशील सड़कों में सुरक्षा उपायों को भी अधिक मजबूत बनाया जाए। क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ओंकार शर्मा ने बैठक में बताया कि परिवहन विभाग द्वारा जनवरी 2018 से  अक्टूबर 2021 तक  7044 चालान किए गए जिसमें डेढ़ करोड़ के करीब जुर्माना वसूला गया। पुलिस विभाग द्वारा इसी समय अवधि के दौरान  2 लाख 90 हजार  149 चालान किए गए और जुर्माने के तौर पर 5 करोड़ 68 लाख 47 हजार की धनराशि सरकारी खजाने में जमा की गई।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो