राज्य के उच्च शिक्षा विभाग का अंग्रेजी में हाथ तंग

HNN News/ शिमला

राज्य के उच्च शिक्षा विभाग का अंग्रेजी में हाथ खासा तंग है। शिक्षा विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को फादर और मदर की स्पेलिंग भी नहीं आ रही है। एप्लीकांट और एप्लीकेशन में अंतर पता नहीं लग पा रहा है।

फादर को फटेहरस तो मेरिटल स्टेटस को मेटीरल स्टेटस लिखा गया है। बात दें कि शिक्षा विभाग ने विभिन्न योजनाओं के तहत मुफ्त वर्दी और किताबों के आवंटन का पिछले पांच सालों का ब्योरा स्कूलों से मांगा है।

इसके लिए विभाग ने मोस्ट अरजेंट और टाइम बॉन्ड लिखकर अधिसूचना जारी की है, लेकिन इसके साथ संलग्न परफार्मा के कॉलम में दिए गए टाइटल की अंग्रेजी में लिखी गई आधा दर्जन से अधिक स्पेलिंग गलत हैं।

उधर, उपनिदेशक उच्च शिक्षा कांगड़ा गुरदेव ने बताया कि निदेशक कार्यालय से अधिसूचना और परफार्मा बनकर आया है। इसी परफार्मा को आगे स्कूलों को भेजा गया है।

परफार्मा के कॉलम नंबर पांच में एप्लीकांट फर्स्ट नेम के स्थान पर एप्लीकेशन फर्स्ट नेम लिखा गया है, जबकि मेरिटल स्टेटस के स्थान पर मेटीरल स्टेटस, कॉलम दस में फादर स्पोज फर्स्ट नेम के स्थान पर फटेहरस फर्स्ट नेम, कॉलम 11 में फादर्स की जगह फटेहरस, कॉलम 14 में मनरेगा और कॉलम 34 का टाइटल भी गलत लिखा गया है।