राज्य में माइक्रो-सर्फेसिंग तकनीक से बनने वाला मैहतपुर-संतोषगढ़ पहला रोड़-सत्ती

HNN / ऊना, वीरेंद्र बन्याल

मैहतपुर-संतोषगढ़ वाया रायपुर सहौड़ा सड़क का सुधारीकरण माइक्रो-सर्फेसिंग तकनीक से किया जा रहा है तथा हिमाचल प्रदेश में इस तकनीकी से बनने वाली यह पहली सड़क होगी। इस पर 95 लाख रूपये की राशि व्यय होने जा रही है। यह बात छठे राज्य वित्तायोग अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने सड़क का भूमिपूजन कर कार्य को विधिवत शुरू करने के अवसर पर कही। 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के पिछले कार्यकाल में 4 करोड़ रूपये की राशि व्यय करके इस सड़क को चैड़ा करके स्तरोन्नत कर डबल लेन किया गया था तथा अब वर्तमान में इस सड़क की टारिंग एक अत्याधुनिक तकनीक से की जा रही है। जिसके तहत सड़क पर एक विशेष सामग्री की पतली परत चढ़ाई जाएगी तथा यह कार्य मजबूत होने के साथ-साथ कम समय में हो जाएगा। सत्ती ने कहा कि ऊना विधानसभा क्षेत्र को विकास की दृष्टि से विकसित करने के लिए उनके प्रयास निरंतर जारी है।

उन्होंने कहा कि नगर परिषद् मैहतपुर में लगभग में 20 करोड़ रूपये की राशि से विभिन्न विभागों के माध्यम से सरकारी क्षेत्र में विकास कार्य चल रहे हैं। 2.45 करोड़ रूपये की लागत से सामुदायिक भवन, 70 लाख रूपये से वार्ड 6 में पार्क बनाया गया है।

पशुपालकों व किसानों सुविधा के लिए 83 लाख रूपये की लागत से पशुचिकित्सालय बसदेहड़ा का भवन बन रहा है। इसी तरह पूरे ऊना विधानसभा क्षेत्र के भीतर लगभग 1800 करोड़ रूपये के विकास कार्य चल रहे हैं जो इस विस क्षेत्र में एक अभूतपूर्ण रिकाॅर्ड है। 

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो