रेडक्राॅस पीड़ित मानवता की सेवा में एक सामाजिक अभियान: राज्यपाल

HNN News/ सोलन

राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि रेडक्राॅस एक सामाजिक अभियान है, जो पीड़ित मानवता की सेवा के लिए कार्य करता है। उन्होंने कहा कि रेडक्राॅस को स्वच्छता और प्लास्टिक मुक्त जैसे सामाजिक अभियानों को में भी जोड़ा जाना चाहिए। राज्यपाल आज सोलन जिला के नालागढ़ में जिला रेडक्राॅस सोसायटी द्वारा आयोजित जिला स्तरीय रेडक्राॅस मेले के शुभारंभ अवसर पर बोल रहे थे।

उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे रेडक्राॅस सोसायटी से जुड़ें तथा मानवीय गतिविधियों में भाग लें, ताकि गरीब वर्ग के लोगों की सहायता की जा सके। उन्होंने कहा कि कल्याणकारी कार्यों को बढ़ावा देने के लिए संसाधन सृजित किए जाने चाहिए तथा जिम्मेदार नागरिकों को रेडक्राॅस की गतिविधियों से स्वयं को जोड़ना चाहिए।

दत्तात्रेय ने इस बात पर अपना संतोष व्यक्त किया कि जिला रेडक्राॅस सोसायटी द्वारा प्रथम अप्रैल, 2018 से 31 मार्च, 2019 तक 79 गरीब व जरूरंतमंद रोगियों के चिकित्सा उपचार के लिए 3.54 लाख रुपये की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की है और 20 सदस्यों को आजीवन सदस्य के रूप में इस संस्था से जोड़ा, जिसके परिणामस्वरूप आजीवन सदस्यों की संख्या बढ़कर 820 हो गई है।

जिला रेडक्राॅस सोसायटी के कार्यों की प्रशंसा करते हुए राज्यपाल ने कहा कि एकत्रित धनराशि में से 30 प्रतिशत हिस्सा जोकि 1.23 लाख रुपये बनता है, राज्य रेडक्राॅस सोसायटी शिमला को प्रदान की जाएगी।

उन्होंने कहा कि रेडक्राॅस सोसायटी के सदस्य द्वारा क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में मरीजों के तीमारदारों को निःशुल्क भोजन प्रदान करने के लिए ‘शूलिनी प्रसादम सेवा’ आरंभ की गई है। उन्होंने कहा कि ऐसे प्रयास अन्य जिलों में भी किए जाने चाहिए।

बंडारू दत्तात्रेय ने लिंगानुपात में सुधार लाने और कन्या भ्रूण हत्या जैसी सामाजिक बुराई पर पूर्ण अंकुश लगाने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि लड़का और लड़की में किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि लड़कियां समाज के प्रत्येक क्षेत्र में आगे हैं और परिवार व देश का नाम रोशन कर रही हैं।

उन्होंने प्राकृतिक खेती करने पर भी बल दिया, क्योंकि रासायनिक खादों के अधिक प्रयोग से पानी, वायु और भोजन दूषित हो रहा है। उन्होंने सोलन जिला की रेडक्राॅस सोसायटी द्वारा लोगों को इस अभियान के साथ जोड़ने तथा जागरूक करने के लिए किए जा रहे प्रयासों की भी सराहना की।

उन्होंने रेडक्राॅस सोसायटी द्वारा मेले में देसी गाय पालने को बढ़ावा देने के लिए लगाए गए स्टाॅल, नशा मुक्ति रैली, रक्तदान शिविर तथा छात्रों के साथ संवाद सत्र का आयोजन करने के प्रयासों की भी सराहना की।

उन्होंने जिला रेडक्राॅस सोसायटी को स्वच्छता और प्लास्टिक मुक्त अभियान को भी अपनी गतिविधियों में शामिल करने को कहा। उन्होंने कहा कि कृतज्ञ राष्ट्र गांधी जी की 150वीं जयंती को ‘स्वच्छता ही सेवा’ के रूप में मना रहा है और उन्होंने सबको स्वच्छता तथा प्लास्टिक मुक्त अभियान में शामिल होेने का आग्रह किया।

उन्होंने इस अवसर पर सोसायटी को अपना बहुमूल्य योगदान देने के लिए राजा विजेंद्र सिंह, सुबोध गुप्ता तथा राजीव मेहता को सम्मानित किया तथा अन्य लोगों को अपने-अपने कार्य क्षेत्र में उपलब्धियों के लिए सम्मानित किया।

उपायुक्त एवं जिला रेडक्राॅस सोसायटी के अध्यक्ष के.सी. चमन ने कहा कि जिला रेडक्राॅस सोसायटी वर्ष 1973 से मानवता के कल्याण के लिए निरंतर कार्य कर रही है तथा सदस्यों की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। सोसायटी जरूरतमंद मरीजों को एम्बुलेंस सेवाएं भी उपलब्ध करवा रही है। उपमंडलाधिकारी नागरिक प्रशांत देष्टा ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।