लाहौल-स्पीति की पारिस्थितिकी व भौगोलिक व्यवस्था के दृष्टिगत स्वच्छता मुहिम चलाने की आवश्यकता

HNN/ लाहौल

उपायुक्त नीरज कुमार ने कहा कि विशेष तौर से जनजातीय क्षेत्र लाहौल-स्पीति की पारिस्थितिकी व भौगोलिक  व्यवस्था के अनुरुप स्वच्छता मुहिम चलाने की आवश्यकता है। उपायुक्त ने यह बात लाहौल घाटी के सिसु क्षेत्र में गोंदला और खंगसर पंचायतों में चलाए गए स्वच्छ हिमाचल अभियान के दौरान अपने संबोधन में कही। उन्होंने कहा कि लाहुल-स्पीति की भौगोलिक और जलवायुगत अपनी अलग विशेषता है। उन्होंने यह भी कहा कि सोच बदलने से ही स्वच्छता सुनिश्चित हो सकती है।

इसके अलावा स्वच्छता के लिए सामुदायिक सोच के साथ व्यवहार में भी बदलाव होना अत्यंत आवश्यक है। स्वच्छता का मूल मंत्र ही मानवीय दृष्टिकोण के साथ जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता को लेकर सरकारी स्तर पर तो प्रयास जारी हैं किंतु जब तक व्यक्ति विशेष और समुदाय इसे स्वयं के साथ अंगीकार नहीं करेगा तब तक स्वच्छता को जमीनी हकीकत पर उतारना कठिन होगा। उपायुक्त ने स्वच्छता अभियान को सफल बनाने में महिला मंडल और युवक मंडल की अहम भूमिका की चर्चा करते हुए कहा कि समाज की सोच को इस दिशा में बदलने के लिए यह संस्थान हमेशा कार्यशील रहें।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता से ही प्रकृति की सुंदरता बरकरार रहती है और इस सुंदरता का सीधा संबंध पर्यटन विकास के साथ जुड़ा हुआ है। उपायुक्त ने आज चलाए गए स्वच्छता अभियान में एडवेंचर  स्पोर्ट्स एंड टूरिज्म सोसाइटी सिसु और शासेन महिला मंडल की सहभागिता की भी प्रशंसा की। उन्होंने एडवेंचर स्पोर्ट्स एंड टूरिज्म सोसाइटी द्वारा सिसु में शौचालय की सुविधा के अलावा पर्यटकों के लिए स्थापित किए जाने वाले विभिन्न चेतावनी व सूचना बोर्ड के मुद्दे पर  संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए।

उन्होंने  कहा कि शौचालय के रखरखाव को स्थानीय सोसाइटी ही सुनिश्चित करेगी। इससे पूर्व उपायुक्त ने स्वच्छता को लेकर उपस्थित अधिकारियों, कर्मचारियों के अलावा महिला मंडल और युवक मंडल के सदस्यों को एक शपथ भी ग्रहण करवाई। शपथ ग्रहण कार्यक्रम के बाद स्वच्छता मुहिम के लिए बनाई गई विभिन्न टीमों ने गोंदला और खंगसर पंचायतों के तहत विभिन्न जगहों पर जाकर ठोस कचरा एकत्रित किया। जिसे बाद में सिसु हेलीपैड के साथ स्टॉक किया गया ताकि उसे आगे निस्तारण के लिए भेजा जा सके।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो