वन विभाग ने लकड़ी से भरी तीन गाड़ियां पकड़ीं, नाके के दौरान मिली सफलता

HNN News/ ऊना

पंजाब सीमा से सटे सुरंगद्वारी में वन विभाग ने तीन गाड़ियों को अवैध रूप से लकड़ी ले जाते पकड़ा है। पुलिस ने तीनों गाड़ियों को जब्त कर आगामी जांच शुरू कर दी है। वन विभाग की इस कार्रवाई के बाद लकड़ी तस्करों में हड़कंप मच गया है।

वहीं, प्रदेश में वन माफिया के बड़े स्तर पर सक्रिय होने की भी पुष्टि हुई है। बताया जा रहा है कि यह गाड़ियां कस्बा दौलतपुर चौक से पंजाब की ओर जा रही थीं।

मिली जानकारी के अनुसार रविवार रात वन विभाग की स्पेशल टीम ने आरओ संदीप कुमार की अगुवाई में पंजाब सीमा से सटे सुरंगद्वारी में नाका लगा रखा था। इसी दौरान दौलतपुर चौक की तरफ से तीन गाड़ियां आईं और जैसे ही तरपाल से ढकी उक्त गाड़ियों को रोक कर वन विभाग ने चेक किया तो उनमें कीमती लकड़ी पाई गई।

गाड़ी चालक उक्त लकड़ी से अधिकारिक परमिट अथवा अन्य जरूरी दस्तावेज न दिखा पाए। जिस पर वन विभाग ने उक्त लकड़ी को गाड़ियों समेत जब्त करके आगामी कारवाई शुरू कर दी।

शुरुआती जांच यह भी पता चला है कि उक्त लकड़ी सरकारी जंगल से काटी गई थी, वन काटू पंजाब में इसे बेचकर मोटी कमाई के चक्कर में थे। डीएफओ मृत्युंजय मार्कंडेय ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि दौलतपुर चौक में पंजाब सीमा पर वन विभाग की विशेष टीम ने अवैध रूप से पंजाब की तरफ जा रही लकड़ी से लदी 3 गाड़ियों को जब्त किया है।

जिनमें से दो गाड़ियों के पास कोई दस्तावेज नहीं थे, जबकि एक गाड़ी के दस्तावेज अवैध पाए गए। उन्होंने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि उक्त लकड़ी सरकारी जंगल से काटी गई थी। उन्होंने बताया कि विभाग ने मामला दर्ज करके आरोपियों के खिलाफ कारवाई शुरू कर दी है।