वाह री जय राम सरकार नाहन मेडिकल कॉलेज में 8:00 बजे के बाद से नहीं है कोई भी डॉक्टर

नाहन मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी भगवान के हवाले, एमएस की नाकामियों की बलि चल रहा है मेडिकल कॉलेज लोगों का है आरोप

HNN News नाहन

मंगलवार का दिन नहान मेडिकल कॉलेज के मरीजों के लिए बहुत ही कष्टदायक रहा। शाम को 8:00 बजे के बाद से लेकर अभी तक यानी 10:00 बजे तक इमरजेंसी में कोई भी डॉक्टर नहीं है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार डॉ पूजन की ड्यूटी इमरजेंसी में 8:00 बजे के बाद लगाई गई थी। पता चला है कि डॉक्टर पूजन बगैर किसी को बताए ड्यूटी से गायब है। इमरजेंसी में डॉ ना होने के कारण कई मरीजों के तीमारदारों को चंडीगढ़ का रुख करना पड़ा।

यानी 8:00 बजे के बाद नहान मेडिकल कॉलेज पूरी तरह से भगवान के भरोसे पर टिका रहा। बताया जा रहा है कि लोग डॉक्टर के ना होने पर नाहन मेडिकल कॉलेज प्रबंधन को पूरी तरह कोसते नजर आए। लोगों ने परेशान होकर मीडिया को इस बात की जब जानकारी दी तो पता चला कि नाहन मेडिकल कॉलेज का कोई फिलहाल वाली बारिश भी नहीं है।

बड़ी बात तो यह है कि नहान विधानसभा क्षेत्र प्रदेश के सबसे तेज तर्रार भाजपा नेता का क्षेत्र है। ड्यूटी पर कोताही बरतने वाले इन नेता का बड़ा खौफ खाते हैं मगर मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों का हाल यह है कि मरीज कि भले जान चली जाए मगर उनकी ऐज परस्ती थी या आराम में खलल ना पड़े इसको लेकर वह हमेशा प्रयासरत रहते हैं।

बाबूराम सुरेंद्र सिंह जमील खान इकरार विमला देवी शिलाई से आए मरीज के तीमारदार दलीप पुंढीर ने तो यह भी कहा कि उन्होंने कई बार एमएस को कॉल किया मगर उन्होंने फोन नहीं उठाया। नाम ना छापने की शर्त पर अस्पताल के कई स्टाफ का कहना है कि एमएस मेडिकल कॉलेज की स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति बिल्कुल भी गंभीर नहीं है।

उधर भले ही डॉक्टर कक्कड़ एक्सीडेंट की वजह से छुट्टी पर हूं मगर उन्होंने एक ही बार में फोन उठाते हुए बताया कि मुझे भी कई कॉल आई है। उन्होंने बताया कि मैंने एक लेडी डॉक्टर से रिक्वेस्ट की है कि वे इमरजेंसी संभाल लें।

खबर लिखे जाने तक इमरजेंसी में कोई भी चिकित्सक नहीं पहुंच पाया था। ऐसे में प्रदेश सरकार भले ही स्वास्थ्य सेवाओं के बड़े-बड़े दावे कर ले मगर जब तक चिकित्सकों के ऊपर नकेल नहीं कसी जाएगी इन सुविधाओं का शायद ही कोई फायदा हो।

उधर डॉक्टर डीडी शर्मा का कहना है कि वह छुट्टी पर है। उनकी जगह डॉक्टर शर्मा चार्ज संभाले हुए हैं।