विक्रमादित्य ने स्थानीय लोगों के साथ पिता की याद में रोपे पौधे

HNN/ शिमला

ग्रामीण शिमला के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने लोगों का आह्वान किया है कि वह अपने अपने क्षेत्रों में पर्यावरण संरक्षण के महत्व को समझते हुए अधिक से अधिक पेड़ पौधों को रोपते हुए जंगलों का सरंक्षण करें। उन्होंने कहा कि तेजी से हो रहें शहरीकरण की वजह से पेड़ कटते जा रहें है और यही कारण है कि भूमि कटाव की वजह से पहाड़ धसते जा रहें है।

शिमला ग्रामीण के तारादेवी के समीप संकट मोचन के बढ़ाई गांव में वन महात्सव की अध्यक्षता करते हुए विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि उनके पिता स्व.वीरभद्र सिंह लोगों व समाज की सेवा की जो विरासत उनके पास छोड़ गए है,उसे वह पूरी निष्ठा से निभाने का पूरा प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि आज उनके पिता उनके बीच नही है, पर उनके आदर्श और उनका आशीर्वाद हमेशा हमारे साथ और हमारे ऊपर रहेगा।

उन्होंने कहा कि उनका उद्देश्य पिता वीरभद्र सिंह के सपनों को पूरा करना और लोगों के दुखदर्द दूर करने का है। इसके लिए वह दिन रात खड़े है। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि शिमला ग्रामीण चुनाव क्षेत्र उनका घर है। क्षेत्र के लोग उनका परिवार है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के विकास व समस्याओं के लिए कभी भी कोई भी उनसे सीधे मिल सकता है।

उन्होंने कहा कि विकास एक निरंतर प्रक्रिया है जो सदैव चलती रहती है,समय के अनुसार यह बढ़ती ही रहती है। विक्रमादित्य सिंह ने इस दौरान यहां स्थानीय लोगों के साथ बढ़ाई में अपने पिता की याद में पौधे रोपे। इस दौरान उन्होंने विभिन्न पंचायतों की मांगों पर विधायक निधि से आठ लाख रुपये स्वीकृत भी किये।

लेटेस्ट न्यूज़ एवम अपडेट्स अपने व्हाटसऐप पर पाने के लिए हमारी व्हाटसऐप बुलेटिन सर्विस को सब्सक्राइब करें। सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें।

वीडियो