विजय दिवस : देश की सीमाओं की रक्षा के लिए सभी भारतीय सैनिकों के ऋणी: किशन कपूर

HNN News/ धर्मशाला

खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर ने आज 47वें विजय दिवस के उपलक्ष्य में धर्मशाला के शहीद स्मारक पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत की और शहीद सैनिकों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

किशन कपूर ने कहा कि सभी लोग भारतीय सैनिकों के ऋणी हैं, जो देश की सीमाओं को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए दिन-रात सजग प्रहरी की भूमिका निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के बहादुर सैनिक मातृभूमि की रक्षा में सदैव आगे रहे हैं। भारतीय सेनाओं में कांगड़ा जिले के सैनिकों ने अतुलनीय साहस, देशभक्ति और कर्तव्य परायणता के मामले में हमेशा मिसाल कायम की है और प्रदेश तथा देश का नाम रोशन किया है।

खाद्य आपूर्ति मंत्री ने कहा कि वर्ष 1971 में पाकिस्तान के विरूद्ध ऐतिहासिक युद्ध में प्रदेश के 195 बहादुर सैनिक शहीद हुए। उन्होंने कहा कि परमवीर चक्रों में से दो हिमाचल के सैनिकों को प्रदान किए गए थे। उन्होंने कहा कि अभी तक 4 हिमाचली सैनिकों को परमवीर चक्र, 10 को महावीर चक्र, 51 को वीरचक्र, 89 को शौर्य चक्र, 2 को अशोक चक्र तथा 985 अन्य मैडल प्रदान किये गये हैं।

इस दौरान खाद्य आपूर्ति मंत्री ने सिख रैजीमेंट द्वारा लगाई गई हथियारों की प्रदर्शनी का अवलोकन किया तथा इसकी सराहना की। उन्होंने शहीद स्मारक परिसर का दौरा किया। उन्होंने कहा कि शहीद स्मारक के सौन्दर्यीकरण के लिए 10 लाख रुपये स्वीकृत किये गये हैं। उन्होंने सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को कार्य शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिये।

इस अवसर पर शहीद स्मारक अध्यक्ष केकेएस डढ़वाल, उपाध्यक्ष कर्नल जय गणेश सिंह, सैनिक बोर्ड के सचिव स्कवाड्रन लीडर (सेवानिवृत) मनोज राणा, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग सुशील डढ़वाल, ललित मोहन, ओंकार भारती, कैप्टन पुरषोतम, इन्द्र सिंह भारद्वाज, डीडी टॉक , एमडी शर्मा, ओपी टांक, निर्मल शर्मा, उर्मिला राणा, संतोष कटोच, प्रदीप सेठी सहित काफी संख्या में स्थानीय लोग व कई गणमान्य व्यक्ति तथा एनसीसी के बच्चे उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *